Lifestyle News - जीवनशैली

हर्बल टी चुटकी कई बीमारियों को करे दूर

images (64)हर्बल टी न केवल रिफ्रेश करती है, बल्कि कई बीमारियों को चुटकी में दूर कर देती है। यह चाय पीने से न सिरदर्द होगा और न ही बाल झड़ेंगे। अपनी पाचन शक्ति ठीक रखना चाहते हैं, तो आज से ही हर्बल टी पीना शुरू कर दें। जानिए कौनसी हर्बल टी के क्या फायदे हैं…

ग्रीन टी
यह टी सिरदर्द से निजात दिलाती है। जिन्हें माइग्रेन है, उनके लिए यह चाय बेहद फायदेमंद है। ग्रीन टी वजन कम करने में भी मददगार है। यह पाचन शक्ति को मजबूत बनाती है। इससे बालों का झडऩा कम होता है। यकीन मानिए इससे बालों की लंबाई भी बढ़ती है।  
इसके सेवन के काफी लाभ होते हैं। हृदय रोग होने की संभावनाओं को कम करने के साथ कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार है। कई रोगों के प्रति शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाती है। ग्रीन टी एंटी-एजिंग के साथ-साथ एंटी-ऑक्सीडेंट का काम भी करती है। इसमें दूध नहीं मिलाना चाहिए क्योंकि इससे उसकी एंटी-आक्सीडेंट तत्व समाप्त हो जाते हैं।
 
अध्ययनों के अनुसार दांतों के लिए भी ग्रीन-टी काफी लाभदायक है। जीवाणु, विषाणु और गले के संक्रमण से भी यह बचाव करती है। ग्रीन टी में पॉलीफिनोल्स होते हैं, जो दांतों को केविटी से बचाते हैं। इसके अलावा कैंसर से बचाव, ब्लैडर, कोलन, इसोफेगल, पैनक्रियाज, रेक्टम और पेट के कैंसर से ग्रीन टी काफी बचाव करती है। इसमें उपस्थित तत्व ऐसी कोशिकाओं को कम या न के बराबर पनपने देते हैं। इससे खून के थक्के जमने की समस्या भी कम होती है।

एंटी इंफ्लेमेटरी होने के कारण इसमें दर्द को कम करने की क्षमता होती है। इसमें उपस्थित कुछ एंटी-ऑक्सीडेंट्स ऑर्थराइटिस के खतरे को कम भी करते हैं। ग्रीन टी यकृत की दो तरह से सुरक्षा करती है। पहले तो यह लीवर की कोशिकाओं की सुरक्षा करती है और दूसरे प्रतिरोधी प्रणाली को भी मजबूत बनाती है। गर्भावस्था के दौरान यह शरीर को लौह, कैल्शियम और मैग्नेशियम की मात्रा देती है। ग्रीन टी रात में भी पी सकते हैं, क्योंकि इसमें कैफीन की मात्रा कम होती है।

सिनमन या दालचीनी की चाय
माइग्रेन के रोगियों के लिए तो यह चाय बेहद उपयोगी है। किसी को बार-बार जुकाम होता है, तो कप सिनमन यानी दालचीनी की चाय से फायदा होगा। दालचीनी में फाइबर, आयरन और कैल्शियम पाया जाता है जो आपके शरीर को मजबूत बनाते हैं। इसलिए आयुर्वेद में भी बालों की बीमारी को रोकने के लिए दालचीनी का प्रयोग किया जाता है। इसलिए अगर आप स्वस्थ, घने और सुंदर बाल चाहते हैं तो दालचीनी का प्रयोग शुरू कर दें।

दालचीनी में सिनामल्डीहाइड नामक केमिकल पाया जाता है, जो रक्त प्रवाह को नियमित कर शरीर में सूजन कम करता है। डायबिटीज केयर जर्नल में प्रकाशित शोध के अनुसार टाइप टू डायबिटीज रोगी दालचीनी की चाय पीएंगे, तो बेहतर होगा। दालचीनी को पीसकर चाय में चुटकी भर मिलाकर रोज दिन में दो तीन बार पीएं। इससे मधुमेह की
बीमारी में आराम मिलेगा। इसका ज्यादा सेवन करना उचित नहीं होता, इसलिए रोजाना थोड़ा-थोड़ा हीं सेवन करें।

कैमोमाइल टी  
कैमोमाइल टी में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं,  तुरंत सिरदर्द को रोकते हैं। यह चाय पीकर देखिए बालों में फर्क महसूस करेंगी। बाल नहीं झड़ेंगे। यह सिर की बेजान त्वचा की जगह नई खाल पैदा करता है, जिससे नए बाल उगते हैं। इसे नाइट टाइम टी भी बोलते हैं। नींद अच्छी आएगी। डिप्रेशन और बैचेनी में भी यह लाभकारी है। कोई चिंता सता रही है, तो रिलेक्स रहने के लिए यह चाय बेहतर विकल्प है। पेट ठीक नहीं है, तो यह चाय कारगर है। स्किन के लिए भी यह बढिय़ा है। पीरियड्स के दर्द में यह चाय लेने से राहत मिलती है।

 

Unique Visitors

11,451,090
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button