Business News - व्यापारNational News - राष्ट्रीय

2013 के बाद रुपये में सबसे बड़ी मजबूती दर्ज की गई, सीधे 100 पैसे मजबूत

मुंबई: अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें कम होने और अमेरिका द्वारा ईरान से तेल आयात पर प्रतिबंधों से भारत को छूट देने की संभावना बढ़ने के बीच भारतीय रुपया शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले 100 पैसे उछलकर 72.45 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। शेयर बाजार में तेजड़ियों का जोर चलने और विदेशी कोषों की ओर से नया निवेश आने से भी रुपये की धारणा मजबूत हुई। पिछले 2 दिन में रुपया 150 पैसे मजबूत हुआ है। गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपये में 50 पैसे की मजबूती आई थी।

अन्तरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में, रुपया 73.14 प्रति डॉलर के भाव पर मजबूत खुला। कारोबार के दौरान यह एक समय 102 पैसे की तेजी के साथ 72.43 के दिन के उच्चतम स्तर को छू गया। अंत में तेजी 100 पैसे रही। बाजार बंद होने के समय विनिमय दर 72.45 रुपये प्रति डॉलर थी। सितंबर 2013 के बाद रुपये में पहली बार एक दिन में 100 पैसे या उससे ज्यादा की मजबूती आई है। कच्चे तेल की कीमतों में लगातार गिरावट से चालू खाते के घाटे (CAD) के बढ़ने की चिंता कुछ कम हुई है। इससे रुपये में सुधार में मदद मिली है। बीएसई का सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को 580 अंकों की तेजी के साथ 35,011.65 अंक पर बंद हुआ।

Unique Visitors

13,063,284
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button