TOP NEWSउत्तर प्रदेशवाराणसी

ज्ञानवापी : जुमे पर बड़ी संख्या में जुटे नमाजियों को वापस भेजा गया

                                                                                                                            -संजय सक्सेना

ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बाद वाराणसी की अदालत ने मस्जिद में अधिकतम 20 लोगों को नमाज पढ़ने की जो इजाजत दी थी,सुप्रीम कोर्ट ने उस पर रोक लगाकर यह प्रतिबंध खत्म कर दिया था,जिसका नजीजा यह हुआ आज जुमे की नमाज पढ़ने के लिए दूर-दूर से नमाजी ज्ञानवापी मस्जिद पहुंच गए,जिसके चलते व्यवस्था गड़बड़ाने लगी। मजबूरन ज्ञानवापी मस्जिद की इंतजामिया कमेटी को बाहर आकर नमाजियों से अपील करनी पड़ी की नमाजी अब यहां न आएं और आसपास की मस्जिदों में नमाज पढ़ेे। बड़ी संख्या में पहुंचं नमाजियों को नियंत्रित रखने के लिए पुलिस को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी।

उधर, विवाद के बाद ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाना के सील होने के बाद अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी ने गत दिवस ही हिंदू और उर्दू में एक पत्र जारी कर मुस्लिम समाज से जुमे की नमाज में कम संख्या में लोगों से मस्जिद में नमाज पढ़ने आने की अपील की है। इस बाबत जिला प्रशासन के साथ पूर्व में हुई बैठक के बाद अपील की गई है कि वजूखाना सील होने की वजह से अधिक लोगों का मस्जिद में आना उचित नहीं होगा लिहाजा आप सभी अपने मोहल्‍ले की अन्‍य मस्जिदों में ही जुमे की नमाज पढ़ें। वहीं दोपहर में नमाज होने के पूर्व ही ज्ञानवापी मस्जिद नमाजियों से पूरी तरीके से भर गई। लोगों के भर जाने की वजह से मस्जिद से लोगों से वापस लौटने और अपने आसपास की मस्जिदों में नमाज अदा करने की अपील भी की गई। जबकि मसाजिद कमेटी की ओर से वालंटियर तैनात कर लोगों को वापस लौटकर अपने मोहल्‍ले की मस्जिदों में नमाज अदा करने की अपील भी की गई।

वहीं ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में वजूखाना के अतिरिक्‍त गेट के पास ही वजू के लिए जिला प्रशासन की ओर से पानी का इंतजाम किया गया है। जिला प्रशासन ने वजू के लिए पानी का इंतजाम अपनी ओर से पहल के तहत किया है। जिला प्रशासन की ओर से जारी सूचना के अनुसार दो ड्रम पानी और पानी को ड्रम से निकालने के लिए लगभग 50 लोटे ज्ञानवापी मस्जिद परिसर के अंदर रखे जाएंगे। वहीं जिलाधिकारी ने मुस्लिम धर्म गुरुओं से शांति बनाए रखने में सहयोक की प्रशासन द्वारा अपील जारी की गई है।

Unique Visitors

11,310,487
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button