National News - राष्ट्रीयTOP NEWS

अभिलाषा बराक ने रचा इतिहास

( कॉम्बैट एविएटर के रूप में आर्मी एविएशन कॉर्प्स में शामिल होने वाली पहली महिला अधिकारी)

नई दिल्ली: भारत की ओर से महिलाओं को रक्षा सेवाओं में अधिकारियों के रूप में शामिल करने के फैसले के तीन साल बाद कैप्टन अभिलाषा बराक हाल ही में सेना की पहली महिला लड़ाकू पायलट बन गईं। कैप्टन अभिलाषा बराक ने कॉम्बैट एविएटर के रूप में आर्मी एविएशन कॉर्प्स में शामिल होने वाली पहली महिला अधिकारी बनकर इतिहास रच दिया है। भारतीय सेना के मुताबिक 15 महिला अधिकारियों ने आर्मी एविएशन में शामिल होने की इच्छा जताई थी। लेकिन केवल दो अधिकारियों का ही पायलट एप्टीट्यूड बैटरी टेस्ट और मेडिकल के बाद चयन हुआ।

बराक उस समय सेना की पहली महिला लड़ाकू एविएटर बनीं, जब नेशनल डिफेंस एकेडमी ने जून 2022 में महिला कैडेटों के अपने पहले बैच को शामिल करने के लिए तैयार हुआ। सुप्रीम कोर्ट ने अक्टूबर 2021 में एक ऐतिहासिक आदेश में महिलाओं के लिए अकादमी के दरवाजे खोल दिए। सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं को सेना में स्थाई कमीशन के लिए भी पात्र माना। साल 2018 में वायु सेना की फ्लाइंग ऑफिसर अवनि चतुर्वेदी लड़ाकू विमान उड़ाने वाली पहली भारतीय महिला बनी थीं।

कैप्टन बराक द लॉरेंस स्कूल, सनावर की पूर्व छात्रा हैं। उन्होंने 2016 में दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में बीटेक में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की और इसके बाद उन्हें डेलॉइट, यूएसए में नौकरी मिल गई।

2018 में, उन्हें अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी, चेन्नई से भारतीय सेना में शामिल किया गया था। उन्होंने आर्मी एयर डिफेंस यंग ऑफिसर्स कोर्स में ‘ए’ ग्रेडिंग, एयर ट्रैफिक मैनेजमेंट और एयर लॉज कोर्स में 75.70 प्रतिशत हासिल किए और अपने पहले प्रयास में प्रमोशनल परीक्षा, पार्ट बी पास की। दो साल बाद, जब पायलटों के रूप में महिलाओं को शामिल करने की घोषणा की गई, तो कैप्टन बराक के लिए का सपना पूरा हो गया।

उन्होंने बताया, “बहुत से लोग यह नहीं जानते हैं, लेकिन 1987 में, ऑपरेशन मेघदूत के दौरान, मेरे पिता अमर पोस्ट से बाना टॉप पोस्ट (पहले क्वैड पोस्ट) तक एक गश्त दल का नेतृत्व कर रहे थे। खराब मौसम के कारण, वह सेरेब्रल ओडेमा से पीड़ित हो गए और उन्हें वापस अमर पोस्ट लाया गया, जहां से उन्हें ठीक समय पर निकाला गया। वह अपने जीवन का श्रेय आर्मी एविएशन कॉर्प्स को देते हैं और इसलिए, मैं भी।”

Unique Visitors

11,203,248
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button