उप्र बजट: अखिलेश बोले लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं, अब खेल खत्म

Toggle title

+
उन्होंने कहा कि लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं। बजट में भाजपा ने अपने संकल्प पत्र को भी पूरा नहीं किया। सपा के पुराने कामों को ही दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों से असलियत छिपाई जा रही है। एक्सप्रेस वे इसका उदाहरण है।

उप्र बजट: अखिलेश बोले लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं, अब खेल खत्म

लखनऊ :  योगी सरकार के सोमवार को उत्तर प्रदेश विधान मण्डल में प्रस्तुत वर्ष 2021-22 के बजट की विपक्ष ने कड़ी आलोचना की है।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा

यह योगी जी का अंतिम बजट है। अब खेल खत्म। बजट में गरीबों और किसानों को सिर्फ धोखा मिला है। महंगाई लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं। बजट में भाजपा ने अपने संकल्प पत्र को भी पूरा नहीं किया। सपा के पुराने कामों को ही दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों से असलियत छिपाई जा रही है। एक्सप्रेस वे इसका उदाहरण है।

अखिलेश यादव ने कहा 

सपा ने हर वर्ग के लोगों को जोड़ने का प्रयास किया है। चुनाव नजदीक आने पर बड़ी संख्या में सत्ता पक्ष के लोग भी हमारी पार्टी में शामिल होंगे। भाजपा सरकार सिर्फ पूंजीपतियों के लिए काम कर रही है। किसान परेशान है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा

बजट में न लघु उद्योग को समर्थन है, न किसान के बर्बाद फसल की बात है और न गन्ना भुगतान पर स्पष्टता है। उन्होंने कहा कि नौजवानों के रोजगार पर निजी क्षेत्र का पहरा है। बुन्देलखण्ड के किसान आत्महत्याओं पर चुप्पी साध ली गई है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अपना राग, अपनी डफली। आज के बजट की यही सच्चाई है। बजट पेपरलेस है, सरकार सेंसलेस है।

यह भी पढ़े :  राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हुआ मध्यप्रदेश का बजट सत्र

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें http://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए : https://www.facebook.com/dastak.times.9
  3. ट्विटर पर फॉलों करने के लिए : https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिएhttps://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos