National News - राष्ट्रीयState News- राज्यTOP NEWS

बेंगलुरु की हवा बद से बदतर, 2020 में वायु प्रदूषण की वजह से 12,000 की मौत हुई: ग्रीनपीस

नई दिल्ली: देश के अलग-अलग शहरों में वायु प्रदूषण की समस्या गंभीर होती जा रही है। एक नई रिपोर्ट के अनुसार, बेंगलुरु के सभी 10 एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग स्टेशन ने प्रदूषण का जो लेवल दर्ज किया है, वो विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मानकों से अधिक है। ग्रीनपीस ने ‘क्या दक्षिण भारत के शहर सुरक्षित हवा में सांस ले रहे हैं?’ टाइटल से रिपोर्ट तैयार की है। इसके मुताबिक बेंगलुरु और अन्य दक्षिण भारतीय शहरों की स्थिति चिंताजनक है। माना जा रहा है कि यहां करीब 12,000 मौतें वायु प्रदूषण से हुई हैं। रिपोर्ट के अनुसार, PM 2.5 और PM 10 के वार्षिक औसत वैल्यू से पता चलता है कि सभी स्थानों पर वैल्यू WHO के मानकों से अधिक है। इसके अलावा सभी स्टेशन के PM 2.5 वैल्यू NAAQS मानकों के भीतर हैं और 8 स्टेशन पर PM 10 वैल्यू अधिक है। यह रिपोर्ट ऐसे समय आई है जब शहरों में ज्यादातर लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट का कम इस्तेमाल कर रहे हैं। लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए निजी वाहनों का सहारा ले रहे हैं।

‘भारत के सभी शहर प्रदूषित हवा में सांस ले रहे’
रिपोर्ट में कहा गया है, “भारत में देश भर के शहर प्रदूषित हवा में सांस ले रहे हैं। वायु प्रदूषण उत्तर भारतीय शहरों तक ही सीमित नहीं है। ग्रीनपीस इंडिया की रिपोर्ट एयरपोकैलिप्स IV ने इस बात पर जोर डाला कि 80% से अधिक शहरों/कस्बों में PM10 का स्तर निर्धारित सीमा 60μg/m3 से अधिक है।”

बेंगलुरू में जीवन की गुणवत्ता में तेजी से गिरावट आई
12 मिलियन से अधिक आबादी वाले बेंगलुरु में लगभग 10 मिलियन वाहन हैं, जो कि करीब 800 वर्ग किलोमीटर के दायरे में आते हैं। खराब सड़कों, खराब योजना और निजी वाहनों को अपनाने से बेंगलुरू में जीवन की गुणवत्ता में तेजी से गिरावट आई है, जिसे पहले भारत के “गार्डन सिटी” के रूप में जाना जाता था।

बेंगलुरु की ट्रैफिक व्यवस्था काफी खराब
नीदरलैंड स्थित टॉमटॉम इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार, वाहनों की आवाजाही इतनी धीमी है कि बेंगलुरु को दुनिया के सबसे खराब ट्रैफिक के रूप में घोषित किए जाने पर वैश्विक बदनामी हुई। नीदरलैंड स्थित टॉमटॉम नेविगेशन, ट्रैफिक और मैप प्रोडक्ट्स का ग्लोबल प्रोवाइडर है। इसके एनुअल ट्रैफिक इंडेक्स के अनुसार, भारत का स्टार्टअप हब बेंगलुरु 57 देशों के 415 अन्य शहरों को पछाड़ते हुए लिस्ट में टॉप पर रहा।

Related Articles

Back to top button