बसपा ने सभी सात बागी विधायकों को किया पार्टी से निष्कासित

बसपा ने सभी सात बागी विधायकों को किया पार्टी से निष्कासित

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बुधवार को बसपा में बगावत उस वक्त खुलकर सामने आ गई। जब पार्टी के पांच विधायकों ने राज्य सभा प्रत्याशी रामजी गौतम के प्रस्तावक के तौर पर नाम वापस ले लिया और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से मिलने पहुंच गए।

हालांकि, बाद में विधायकों ने अखिलेश से मुलाकात की बात का इनकार किया। इस बीच बागी विधायकों की संख्या बढ़कर सात हो गईं।

पहले पांच विधायकों असलम राइनी, असलम चौधरी, मुज्तबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद और हरगोविंद भार्गव का नाम सामने आया। इसके बाद सुषमा पटेल और सगड़ी विधायक वंदना सिंह का नाम भी बागियों के लिस्ट में जुड़ गया।

यह भी पढ़े:-  राजस्थान के निगम चुनावों : CM अशोक गहलोत की प्रतिष्ठा दांव पर, मतदान शुरू 

आज गुरूवार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने सुबह संवाददाताओं को बताया कि उन्होने सभी सात बागी विधायकों को अपनी पार्टी से निकासित कर दिया है।

मायावती ने कहा इस बार लोकसभा चुनाव में एनडीए को सत्ता में आने से रोकने के लिए हमारी पार्टी ने सपा सरकार में मेरी हत्या करने के षड्यंत्र की घटना को भूलाते हुए हमारी पार्टी ने देश में संकीर्ण ताकतों को कमजोर करने के लिए सपा के साथ गठबंधन करके लोकसभा चुनाव लड़ा था।

सुप्रीमो मायावती ने कहा इनका एक और दलित विरोधी चेहरा हमें कल राज्यसभा के पर्चों के जांच के दौरान देखने को मिला। जिसमें सफल न होने पर ये ‘खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे’ की तरह पार्टी जबरदस्ती बीएसपी पर बीजेपी के साथ सांठगांठ करके चुनाव लड़ने का गलत आरोप लगा रही है।

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंwww.dastaktimes.orgके साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिएhttps://www.facebook.com/dastak.times.9और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें।

साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनलhttps://www.youtube.com/c/DastakTimes/videosपर। तो फिर बने रहियेwww.dastaktimes.orgके साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।