उन्नाव घटना को कम्युनिस्ट नेता सुभाषिनी ने बताया तंत्र-मंत्र से जुड़ा

प्रदेश में बढ़ रहीं उन्नाव प्रकरण जैसी घटनाएं

कानपुर, 18 फरवरी (दस्तक टाइम्स) : उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र में हुई घटना के बाद कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में भर्ती तीसरी बालिका का हाल देखने गुरुवार को कम्युनिस्ट पार्टी नेता व पूर्व सांसद सुभाषिनी अली पहुंची। उन्होंने घटना को लेकर प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया। 

चिंता जाहिर करते हुए प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोलते हुए सुभाषिनी ने कहा कि प्रदेश में ऐसी घटनाएं प्रतिदिन हो रही हैं, लेकिन सरकार अपने एजेंडे को पूरा करने में लगी है। इसके चलते ही ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं। लोगों में वैज्ञानिक सोच पैदा करने व बढ़ाने की ओर सरकार कोई प्रयास नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि यह मामला कहीं न कही तंत्र—मंत्र से जुड़ा हो सकता है, क्योंकि इस समय समाज में अंधविश्वास का बोलबाला है और सरकार अंधविश्वास को बढ़ावा दे रही है। 

उन्नाव घटना पर सवाल खड़े करते हुए श्रीमती अली ने कहा कि लड़कियों ने खुद अपने हाथ नहीं बांधे, एक आदमी तीन लड़कियों के हाथ अकेले नहीं बांध सकता। उत्तर प्रदेश में कोई भी सुरक्षित नहीं है,क्योंकि न्याय का काम इस प्रदेश में नहीं बचा है।

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें http://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए : https://www.facebook.com/dastak.times.9
  3. ट्विटर पर फॉलों करने के लिए : https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़–वीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए: https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos

उल्लेखनीय है कि बीते बुधवार को उन्नाव के असोहा गांव की रहने वाली तीन लड़कियों के हाथ-पांव बंधे हुए मिले थे। इनमें से दो चचेरी बहनों की मौत हो गई है और तीसरी लड़की की हालत नाजुक बनी हुई है, जिसका इलाज कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में चल रहा है। इस घटना के बाद प्रदेश में विपक्षी पार्टियों द्वारा अपने-अपने तरीके से भाजपा सरकार को घेरने में लग गई है।