International News - अन्तर्राष्ट्रीय

दुनिया में फिर कोहराम मचा रहा कोरोना! WHO की चेतावनी- जर्मनी में आने वाले महीनों में दर्ज होंगी 7 लाख मौतें

नई दिल्ली: दुनिया के लिए कोरोना का खतरा एक बार फिर खड़ा होता नजर आ रहा है, कई देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों की चिंता बढ़ा दी है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने मंगलवार को कहा कि यूरोप में कोविड की “मजबूत पकड़” बनी हुई है। और यहां सर्दियों तक मरने वालों की संख्या 22 लाख से ज्यादा हो सकती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी दी है कि आने वाले महीनों में कुछ 7 लाख लोग मर सकते हैं, क्योंकि पूरे यूरोप में मामले बढ़ रहे हैं जो कि कुछ देशों को सख्त प्रतिबंध लगाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

डब्ल्यूएचओ ने अनुमान लगाया है कि “अभी से लेकर 1 मार्च, 2022 के बीच 53 में से 49 देशों की गहन देखभाल इकाइयों (आईसीयू) में उच्च या अत्यधिक तनाव” देखने को मिल सकता है। इसके अलावा कुल मौतों की संख्या भी 22 लाख तक पहुंच सकती है. फिलहाल कोरोना से मरने वालों की संख्या 15 लाख से ऊपर है.

डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना से होने वाली मौतें पिछले सप्ताह बढ़कर लगभग 4,200 प्रति दिन हो गईं, सितंबर के आखिर में एक दिन में 2,100 मौते दर्ज की जा रही थीं और अब आंकड़ा दोगुना हो गया है। जर्मनी में टीकाकरण करा चुके लोग भी वायरस से नहीं बच पा रहे हैं। डब्ल्यूएचओ यूरोप के क्षेत्रीय निदेशक, हंस क्लूज ने एक बयान में कहा, “यूरोप और मध्य एशिया में कोविड -19 की स्थिति बहुत गंभीर है। हम आगे एक चुनौतीपूर्ण सर्दी का सामना कर रहे हैं ”

उन्होंने “वैक्सीन प्लस” दृष्टिकोण का आह्वान किया, जिसमें टीकाकरण, सामाजिक दूरी, फेस मास्क का उपयोग और हाथ धोना शामिल है। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने मंगलवार को कोरोनो वायरस मामलों में वृद्धि को रोकने के लिए और प्रतिबंधों का आह्वान किया क्योंकि देश की संक्रमण दर रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई और अमेरिका ने भी जर्मनी में यात्रा के खिलाफ सलाह दी।

स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने जर्मनी की चौथी लहर को रोकने के लिए सार्वजनिक स्थानों को प्रतिबंधित करने का आह्वान किया, स्वास्थ्य मंत्री ने यह बात उन लोगों से कही जिन्हें टीका लगाया गया था या जो हाल ही में कोविड -19 से ठीक हुए हैं या वो जिन्होंने हाल में वायरस का नकारात्मक परीक्षण किया है।

स्पैन जर्मन रेडियो को बताया, “जर्मनी के कुछ इलाकों में स्थिति अब न केवल गंभीर है, बल्कि खतरनाक हो गई है” उन्होंने कहा, “हमें मरीजों को इधर-उधर करना पड़ रहा है क्योंकि आईसीयू भरे हुए हैं और यह सिर्फ कोविड -19 रोगियों को प्रभावित नहीं करता है।”

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastaklko
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q

Related Articles

Back to top button