घर में चहिए खुशहाली तो वास्तु शास्त्र के अनुसार करें ये काम

लखनऊ : नए साल आज से शुरू हो गया है। लोगों को 2021 से खूब उम्मीदें हैं। नए साल में लोग पैसों और तरक्की के लिए भी कई वास्तु उपाय भी करते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार, अगले साल के शुरू होने के पहले घर से कुछ चीजों को बाहर करने से खुशहाली और सुख-समृद्धि घर में आती हैं।

जानकारों का कहना है कि वास्तु शास्त्र के उपाय बहुत असरदार होते हैं। माना जाता है कि वास्तु शास्त्र में हवा, पानी और अग्नि की ऊर्जाओं के बीच सामंजस्य स्थापित किया जाता है। जानिए नए साल में किन चीजों को घर

से निकालना चाहिए-

पूजा के पास पुराना सामान हटाएं

आम तौर पर लोग मंदिर में पूजा करते हुए भगवान की प्रतिमा या मूर्ति में फूल या माला चढ़ाते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार, मंदिर की समय-समय पर सफाई करके पुराने-फूल हटाना शुभ होता है। कहा जाता है कि नए साल की शुरुआत घर या दुकान के मंदिर की साफ-सफाई से करनी चाहिए। कहते हैं कि मंदिर में पुराना सामान रखने से दोष लगता है, जिससे दरिद्रता, परेशानी और कलह बढ़ती है।

बंद पड़ी घड़ी

वास्तु शास्त्र के अनुसार, जिनके घर में काफी समय से घड़ी बंद पड़ी हो, उसे तुरंत हटा देना चाहिए। वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में कभी भी टूटी हुई या रुकी हुई घड़ी नहीं रखनी चाहिए। माना जाता है कि बंद घड़ियों को रखने से बेवजह पैसा खर्च होता है और घर में कभी बरकत नहीं आती है।

टूटे फर्नीचर

वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में टूटी कुर्सी या फिर टूटा पलंग रखने से लोगों के दांपत्य जीवन में कड़वाहट आती है। कहते हैं कि ऐसे घरों में पति-पत्नी के बीच अक्सर टकराव होता रहता है। कहा जाता है कि इसके लिए जरूरी है कि लोग नए साल में घरों से टूटे हुए फर्नीचर को बाहर निकाल देना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा सामान घर में रखने से गरीबी आती है।

यह भी पढ़े: नववर्ष की रात दोस्त के घर नशे में धुत्त युवक छत से गिरा, मौत – Dastak Times 

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें www.dastaktimes.org  के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए  https://www.facebook.com/dastak.times.9 और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें। साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़-वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनल  https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos पर। तो फिर बने रहिये  www.dastaktimes.org के साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।