State News- राज्यउत्तर प्रदेश

लोकतंत्र के लिए सभी मिलकर काम करेः योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुनिया के युवा नेतृत्वकर्ताओं से एकजुट हो आगे बढ़ने की अपील की है। योगी के मुताबिक मानवता के कल्याण का मार्ग हमें मिलकर ही प्रशस्त करना होगा। उन्होंने कहा कि भारत के प्राचीन ध्येय वाक्य ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ पर सभी देश काम कर रहे हैं तो स्वाभाविक रूप से उन्होंने लोकतंत्र को किसी न किसी रूप में अंगीकार किया है जो दुनिया को एक नई प्रेरणा प्रदान कर सकता है। यह संदेश रविवार को मुख्यमंत्री ने ‘जेन नेक्स्ट डेमोक्रेसी नेटवर्क प्रोग्राम’ में शामिल होने वाले प्रतिभागियों को अपने सरकारी आवास पर बुलाई एक बैठक के दौरान दिया।

इस मौके पर उन्होंने अर्जेंटीना, बोत्सवाना, कनाडा, हंगरी, इंडोनेशिया, जापान और लिथुआनिया से आए हुए यंग लीडर्स का उप्र सरकार और नागरिकों की ओर से अभिनंदन भी किया। योगी ने यहां कहा कि दुनिया के यंग लीडर्स लोकतंत्र के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं को जिक्र किया। दोहराते हुए मिलकर कार्य करेंगे तो न केवल अपने देश का बल्कि दुनिया के अंदर मानवता के कल्याण का मार्ग प्रशस्त कर पाएंगे।

योगी बोले, मुझे प्रसन्नता है कि जापान के यंग लीडर्स भी यहां आए हुए हैं। जापान की स्मृतियां भारत से जुड़ी हुई हैं, क्योंकि भगवान बुद्ध के ज्ञान प्राप्ति की भूमि हो या उनके सिद्धि प्राप्ति की भूमि हो, उनके महापरिनिर्वाण स्थली हो या उनकी पावन धरा के रूप में भारत और उसमें उप्र की धरती महत्वपूर्ण भूमिका रखती है। भारत और जापान के बीच में ये सांस्कृतिक संबंध बहुत प्राचीन हैं। इसी कड़ी में योगी ने इण्डोनेशिया और उत्तर प्रदेश के सांस्कृतिक, अध्यात्मिक संबंधों का जिक्र किया। उत्तर प्रदेश और भारत के अंदर लोकतांत्रिक मूल्यों के साथ काम करते हुए हम लोग आमजन के साथ जिस तरह संवाद बनाकर काम करते हैं उसके परिमाण इस सदी की महामारी के दौरान देखने को मिला है। दुनिया के 25 से अधिक देशों में फ्री में वैक्सीन भी उपलब्ध कराई है। उप्र में हम लोग अनेक ऐसे कार्यक्रम चला रहे हैं जो एक सामान्य नागरिक के जीवन में परिवर्तन लाने और आत्मनिर्भर बनाने में योगदान दे रहे हैं।

Related Articles

Back to top button