पहली बार कांग्रेस सांसद प्रद्युत बरदलै ने की अखिल गोगोई की आलोचना

अखिल गोगोई को बताया भाजपा की बी टीम

गुवाहाटी, 21 जनवरी (दस्तक ब्यूरो)। विधानसभा चुनावों के मद्देनजर असम की राजनीतिक पार्टियों में नित नये-नये समीकरण बन और बिगड़ रहे हैं। एक समय कांग्रेस पार्टी को लग रहा था कि विधानसभा चुनाव में कृषक मुक्ति संग्रा समिति (केएमएसएस) के आंदोलन का उसे लाभ मिलेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

केएमएसएस ने चुनावों से ठीक पहले अपनी राजनीतिक पार्टी राइजर दल का गठन कर लिया है। इसके बाद भी कांग्रेस को लग रहा था कि राइजर दल उनके साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी, लेकिन यह सपना भी कांग्रेस का पूरा होते नहीं दिख रहा है जिसके चलते कांग्रेस पार्टी अब केएमएसएस के सर्वेसर्वा अखिल की आलोचना करने पर उतारू हो गयी है।

यह पहली बार है जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, नगांव के सांसद व पूर्व मंत्री प्रद्युत बरदलै ने अखिल गोगोई की आलोचना करनी शुरू कर दी है। देशद्रोह के आरोप में अखिल गोगोई एक वर्ष से अधिक समय से फिलहाल जेल में बंद हैं। जमानत की तमाम कोशिशें सफल होती दिखाई नहीं दे रही हैं। नगांव के सांसद प्रद्युत बरदलै होजाई जिला के नीलबागान में एक फुटबाल मैच की प्रतियोगिता का उद्घाटन करने पहुंचे थे। इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए पहली बार उन्होंने अखिल पर निशाना साधते हुए कहा कि अखिल गोगोई एआईयूडीएफ के अध्यक्ष मौलाना बदरुद्दीन अजमल को साम्प्रदायिक क्यों कर रहे हैं। पहले तो अखिल एआईयूडीएफ के साथ मिलकर काफी काम किया था। अचानक अजमल आज साम्प्रदायिक कैसे हो गये।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में कांग्रेस ने एआईयूडीएफ व वामपंथी पार्टियों के साथ मिलकर विधानसभा चुनावों में भाजपा को हराने के लिए एक महागठबंधन बनाया है। यही कारण है कि अजमल की आलोचना को कांग्रेस अब पचा नहीं पा रही है। जबकि, कांग्रेस और एआईयूडीएफ के बीच पिछले दिनों तक छत्तीस का आंकड़ा रहा है।

यमुनामुख विधानसभा के डबका में बुधवार को केएमएसएस की राजनीतिक पार्टी राइजर दल की एक जनसभा आयोजित की गयी थी। जनसभा में राइजर दल के नेताओं ने भाजपा के साथ ही एआईयूडीएफ और सांसद बदरुद्दीन अजमल की कड़े शब्दों में आलोचना करते हुए अजमल को साम्प्रदायिक करार दिया था। मीडिया द्वारा एआईयूडीएफ को लेकर बरदलै से पूछे गये सवाल के उत्तर में उन्होंने कहा कि हमारे साथ केवल एआईयूडीएफ ही नहीं है, बल्कि अन्य कई वामपंथी पार्टियां हैं। ऐसे में क्या राइजर दल वामपंथी पार्टियों को भी साम्प्रदायिक दल कहेगी। कांग्रेसी नेता बरदलै ने अखिल गोगोई को भाजपा की बी टीम करार देते हुए कहा कि क्या वे भाजपा के लिए काम कर रहे हैं, हमें इसको देखना होगा।

  1. देशदुनियाकीताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंorgके साथ।
  2. फेसबुकपरफॉलोंकरने के लिए : https://www.facebook.com/dastak.times.9
  3. ट्विटरपरपरफॉलों करनेके लिए : https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथहीदेशऔर प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनलकेलिएhttps://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos

इस मौके पर सांसद बरदलै ने भाजपा नेता व नेडा के संयोजक डॉ हिमंत विश्वशर्मा की भी जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि डॉ विश्वशर्मा का काम निर्लज होकर साम्प्रदायिक बयान देना है। उन्होंने कहा कि इस बार कांग्रेस व एआईयूडीएफ का महागठबंधन चुनावों में जीत हासिल कर सरकार बनाएगी।