National News - राष्ट्रीयState News- राज्य

बंगाल में कब तक हिंदुओं की बलि चढ़ती रहेगी, हिंदू महिलाओं का बलात्कार होता रहेगा : स्मृति ईरानी

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में कुछ महिलाओं द्वारा सामने आकर मीडिया को अपनी व्यथा बताने का जिक्र करते हुए राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा कि पश्चिम बंगाल में कब तक टीएमसी की राज्य प्रायोजित हिंसा द्वारा हिंदुओं की बलि चढ़ती रहेगी और हिंदू महिलाओं का बलात्कार होता रहेगा।

भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में कुछ महिलाओं ने बांग्ला में अपनी व्यथा को मीडिया के सामने रखा है कि टीएमसी के लोग घर-घर जाकर देखते थे कि किस घर में कौन सी बहू सुंदर है, उम्र में कौन कम है और फिर उन औरतों को पहचान कर उनके पतियों से कहा जाता था कि तुम इसके पति हो सकते हो, लेकिन अब तुम्हारा इस औरत पर कोई अधिकार नहीं है।

बंगाल में कम उम्र की नवविवाहिताओं के साथ बलात्कार का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि जब तक टीएमसी के गुंडों का मन नहीं भरता था, तब तक इन औरतों को रिहा नहीं किया जाता था और इसके लिए विशेष रूप से टीएमसी के गुंडे हिंदू परिवारों को चिन्हित करते थे। तृणमूल कांग्रेस के नेता शेख शाहजहां पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे कहा कि यह शेख शाहजहां वहीं है, जिसके गुंडों ने ईडी अधिकारियों का घेराव कर उन पर ईंट-पत्थर फेंककर उन्हें घायल कर दिया था।

टीएमसी सुप्रीमो पर बड़ा हमला बोलते हुए केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि ममता बंदोपाध्याय (ममता बनर्जी) ने अपने राजनीतिक लाभ के लिए एससी, एसटी, मछुआरों और कृषक समुदायों की महिलाओं की गरिमा का सौदा किया है। हिंदू नरसंहार पर सौदा कर ममता अपनी सत्ता का साम्राज्य चला रही हैं। घर-घर जाकर ममता के गुंडे हिंदू परिवार की छोटी उम्र की बहुओं को उठाकर उनका बलात्कार कर रहे हैं और ममता उस पर चुप्पी साधे हुए हैं। ममता बंदोपाध्याय बताएं कि शेख शाहजहां कहां हैं ?

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी और इंडी अलायन्स में शामिल अन्य विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि ममता बनर्जी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं, देश में न्याय यात्रा निकालने वाले चुप हैं और गठबंधन की बात करने वाले भी चुप हैं। कतर की जेल में बंद पूर्व भारतीय नौसैनिकों के सकुशल वापस लौटने के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए स्मृति ईरानी ने इसे भारत सरकार के विशेष प्रयासों का नतीजा बताते हुए उनकी सकुशल वापसी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया।

Related Articles

Back to top button