International News - अन्तर्राष्ट्रीय

उत्तर कोरिया में कोरोना से हाहाकार, सैन्य शासक ने कहा- इतिहास की सबसे बड़ी चुनौती झेल रहा देश

प्योंगयांग। कोरोना ने अब उत्तर कोरिया में कहर बरपाना शुरू कर दिया है। देश में 17 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिले हैं और 21 और मौतें हुई हैं। हालात को देखते हुए सैन्य शासक किम जोंग उन भी सहम गए हैं।

उत्तर कोरिया की सरकारी न्यूज एजेंसी केसीएन के अनुसार किम जोंग उन ने कहा है कि देश अपनी स्थापना के बाद अब तक की सबसे बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है। स्पूतनिक न्यूज एजेंसी ने केसीएन के हवाल से कहा कि किम ने देश में कोरोना वायरस रोधी इंतजाम करने व संक्रमण और फैलने से रोकने के निर्देश दिए हैं।

देश में 17,400 नए कोविड केस मिले हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 5,20,000 तक पहुंच गई है। उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को पहली मौत के बाद कुल छह मौतों की पुष्टि की थी, अब 21 और मौतों की सूचना है।

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के अनुसार उत्तर कोरिया में गुरुवार को कोरोना का पहला केस मिलने के बाद राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया था। अब देश में कोरोना का ओमिक्रॉन वैरिएंट कहर ढा रहा है। उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग ने आपात बैठक कर हालात की समीक्षा की और आपातकाल का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए।

पहले बुखार बताया गया
उत्तर कोरिया ने कोरोना को पहले अज्ञात बुखार बताया था। सरकारी मीडिया ने कहा था कि उत्तर कोरिया में कोविड-19 के कारण ‘बुखार’ से लाखों लोगों में बुखार के लक्षण पाए गए हैं। हजारों लोगों को एकांतवास में रखकर उनका इलाज किया जा रहा है।

कोरोना मुक्त रहने का दावा फेल
उत्तर कोरिया में कोरोना के कहर के साथ ही कोरोना मुक्त देश का दावा फेल हो गया है। करीब दो साल से देश में सबसे कठोर एंटीवायरस सिस्टम लागू है, लेकिन ओमिक्रॉन वैरिएंट ने सेंधमारी कर दी। किम जोंग ने प्रतिज्ञा की है कि वह देश को इस अप्रत्याशित संकट से उबार लेंगे। उन्होंने संक्रमण को फैलने से रोकने के हर संभव उपाय का निर्देश दिया है। उधर, चीन में भी कोरोना से बुरा हाल है। बीजिंग व शंघाई जैसे शहरों के बड़े हिस्सों में कोरोना पाबंदियां लागू हैं।

Unique Visitors

9,440,263
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button