State News- राज्यबिहार

बिहार में श्रद्धा वालकर की तरह हत्या, सिरफिरे ने हाथ-पैर सहित कई अंग काटे

भागलपुर: दिल्ली के श्रद्धा वाल्कर मर्डर केस की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि बिहार में एक महिला की कुछ इसी अंदाज में हत्या कर दी गई. घटना भागलपुर जिले की है जहां के पीरपैंती थाना क्षेत्र के सिंघिया पुल के पास देर शाम नीलम देवी की हत्या शकील मियां नाम के अपराधी ने कर दी. शकील द्वारा नीलम पर चाकू से कई बार वार करते हुए उसे वीभत्स तरीके घायल कर दिया गया. महिला को चिंताजनक स्थिति में इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के क्रम में ही उसकी मौत हो गई.

नीलम देवी नाम की महिला की शकील नाम के एक व्यक्ति ने धारदार हथियार से काटते हुए हत्या कर दी. घटना को अंजाम देने के लिये आरोपी व्यक्ति पहले से घात लगाए बैठा था. जैसे ही बाजार से निकल कर महिला वहां पहुंची उसने गमछे से हथियार निकाला और महिला पर ताबड़तोड़ वार किये. शकील ने नीलम के हाथ, पैर, कान और शरीर के कई अंग काट डाले. जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक आरोपी फरार हो गया. शनिवार को हमला हुआ था और रविवार को इलाज के दौरान नीलम की मौत हुई.

परिजन इस घटना के बाद सुबह से ही पीरपैंती थाना प्रभारी राजकुमार को फोन मिलाते रहे लेकिन थाना प्रभारी ने फोन तक नहीं उठाया, वही सोमवार को इस घटना के आरोपी शकील मियां की गिरफ्तारी संभव हो सकी है. मृतका की बेटी पुलिस के सुस्त रवैये से काफी नाराज है. बेटी का कहना है कि शकील मियां उनके घर पर आता था जिसका विरोध मां भी किया करती थी और पिता के द्वारा भी उसे घर नहीं आने की हिदायत दी गई थी. मां के साथ गलत नियत रखने को लेकर शकील घर पर आता था लेकिन इन लोगों ने यह नहीं सोचा था कि इस तरह की भी घटना हो जाएगी.

इसको लेकर पुलिस में कोई सूचना पहले नहीं दी थी. घटना के बाद पुलिस के रवैया से परिवार काफी नाखुश है. परिजनों का कहना है कि अपराधी को स्पीडी ट्रायल के तहत एक माह में मौत की सजा दिलवाई जाए जिससे नीलम की आत्मा को शांति मिल सके. वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम भी अभी कैमरे के सामने आकर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी है.

Related Articles

Back to top button