दुनिया में सबसे बड़े लोकतंत्र का आदर्श बना भारत का संविधान : मुख्यमंत्री

दुनिया में सबसे बड़े लोकतंत्र का आदर्श बना भारत का संविधान : मुख्यमंत्री

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर संविधान दिवस के अवसर पर संविधान की उद्देशिका का पाठन राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द के सान्निध्य में वर्चुअल माध्यम से किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने उत्तर प्रदेश संहिता (द्विभाषी) के दो संस्करणों का विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने संविधान दिवस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि 26 जनवरी, 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ था।

आज ही के दिन संविधान सभा ने भारतीय संवि धान को अंगीकृत किया। भारत के संविधान की ताकत ही है कि यह दुनिया के अन्दर सबसे बड़े लोकतंत्र का आदर्श बना हुआ है।

योगी ने कहा, सम-विषम परिस्थितियों में भी भारतीय संवि धान हमें प्रेरणा प्रदान करता है। जाति, मत, सम्प्रदाय, भाषाएं, खान-पान की बहुलता होने के बावजूद भारतीय संविधान पूरे भारत को माला में पिरोए हुए है।

‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को साकार करने में भी संविधान की महती भूमिका है। न्याय, स्वतंत्रता, समता और बन्धुता ये भारत की सबसे बड़ी विशेषता है। इन्हीं मूलभूत बातों को ध्यान में रखकर सभी कार्यक्रम आगे बढ़ाये जा रहे हैं।

यह भी पढ़े:- प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 2237 नये मामले आये सामने 

इस अवसर पर राज्य सरकार के दोनों उप-मुख्यमंत्री, अन्य कई मंत्रीगण, विधान परिषद सदस्य स्वतंत्र देव सिंह, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 नवनीत सहगल, सूचना निदेशक शिशिर सहित एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

आज का दिन अत्यन्त गौरव का: केशव मौर्या

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि आज का दिन अत्यन्त गौरव का दिन है। संविधान हम सबको अधिकारों व कर्तव्य से जोड़ता है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान केन्द्र व राज्य सरकार बिना भेदभाव के सभी वर्गों को योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाया जा रहा है। अनुच्छेद 51ए को आत्मसात करके हम कर्तव्य पथ पर चलते हुए देश को महान बना सकते हैं।

भारत का राजधर्म है संविधान: दिनेश शर्मा

उप मुख्यमंत्री डॉ0 दिनेश शर्मा ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। भारत का संविधान राजधर्म है। भारत के लोगों से ही हमारा संविधान संरक्षित है। कार्यक्रम का संचालन संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने किया।

विधि एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि आज का दिन अत्यन्त महत्वपूर्ण है, क्योंकि आज ही के दिन हमारा संविधान अंगीकृत किया गया था।

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंwww.dastaktimes.org के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastak.times.9 और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें। साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनल https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos पर। तो फिर बने रहिये www.dastaktimes.org के साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।