दिल्ली

दिल्ली में डेंगू के 1000 से ज्यादा मरीज, रामलीला मैदान में बने Covid सेंटर में शिफ्ट किए जा रहे मरीज

राजधानी दिल्ली में कोरोना के बाद अब डेंगू तेजी से पैर पसार रहा है. दिल्ली में डेंगू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में मरीजों को रामलीला मैदान में बने कोविड सेंटर में शिफ्ट किया जा रहा है. दिल्ली सरकार के एलएनजेपी हॉस्पिटल में बेड भरने के चलते मरीजों को यहां शिफ्ट किया गया.

दिल्ली में अब तक डेंगू के 1000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. यहां पिछले 3 साल का रिकॉर्ड टूट गया है. यह तेजी से आ रहे केसों के चलते अस्पतालों में बेड की कमी होती जा रही है. एलएनजेपी अस्पताल के डायरेक्टर डॉ सुरेश के मुताबिक, हर रोज 100 से 150 मरीज बुखार के सामने आ रहे हैं, जिनमें से 45 फीसदी डेंगू के पॉजिटिव पाए जा रहे हैं. अस्पताल में तेजी से मरीज बढ़ रहे हैं, ऐसे में दिल्ली के रामलीला मैदान में डेंगू के मरीजों को शिफ्ट किया जा रहा है.

एलएनजेपी हॉस्पिटल के डायरेक्ट डॉक्टर सुरेश कुमार ने सलाह दी है कि लोग घरों के अंदर अपने आप से दवाइयां लेते हैं, जो कि खतरनाक हो सकता है. डेंगू पॉजिटिव होने पर सबसे पहले डॉक्टर से सलाह लें. उधर, दिल्ली नगर निगम के स्वामी दयानंद अस्पताल में डेंगू के बढ़ते केसों के चलते इमरजेंसी सर्जन सेवाओं को बंद कर दिया गया. अस्पताल में 30-35% मामले डेंगू के हैं. अस्पताल की एडिशनल मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ माथुर के मुताबिक, अस्पताल में दिल्ली और गाजियाबाद से तकरीबन हर रोज 150 बुखार के केस सामने आ रहे हैं, जिनमें डेंगू पॉजिटिव सबसे ज्यादा है.

वहीं, राजधानी में डेंगू के केस सामने आने के बाद सियासत भी तेज हो गई है. साउथ दिल्ली नगर निगम के मेयर मुकेश ने डेंगू के लिए दिल्ली सरकार को जिम्मेदार बतााय है. उन्होंने कहा, दिल्ली सरकार सिर्फ विज्ञापन के जरिए 10 हफ्ते 10 दिन का प्रचार कर रही है. लेकिन जमीनी स्तर पर सरकार ने कुछ नहीं किया. अस्पतालों में बेड फुल हो रहे हैं. दिल्ली की सड़कें टूटी हुई हैं, जिसके कारण बारिश का पानी इकट्ठा है. इसके चलते डेंगू बढ़ रहा है.

डेंगू के बढ़ते मामलों के बाद अब दिल्ली नगर निगम आज से महाअभियान शुरू करने जा रही है. इस अभियान के तहत हर वार्ड में दो से तीन बार फागिंग की जाएगी. घर-घर चेकिंग की जाएगी, ताकि डेंगू के मामलों को रोका जा सके.

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastaklko
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q

Related Articles

Back to top button