BREAKING NEWSNational News - राष्ट्रीयTOP NEWSफीचर्ड

प्रवासी मजदूरों को कोई टिकट नहीं बेचा, राज्य सरकारों से वसूला केवल मानक किराया : रेलवे

राघवेंद्र प्रताप सिंह : इन दिनों प्रवासी मजदूरों से रेल किराया वसूसले के मुद्दे पर राजनीति गर्माई हुई है। प्रवासी मजदूरों से किराया वसूलने के मुद्दे पर राजनीति के बीच रेलवे ने साफ किया है कि उसने प्रवासी मजदूरों से कोई किराया नहीं वसूला है। गौरतलब है कि सपा के अखिलेश यादव ने मजदूरों से किराया लेना शर्मनाक बताया था। इसी के बाद रेलवे ने मामले में सफाई दी है। वहीं अखिलेश यादव के ​अलावा कांग्रेस ने भी भाजपा सरकार पर जोरदार हमला बोला था। इसके अलावा बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने पचास ट्रेनों का किराया देने को कहा है।

समाचार एजेंसी ने रेल मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से बताया कि रेलवे ने प्रवासी मजदूरों को कोई टिकट नहीं बेचा है। सूत्रों के मुताबिक रेलवे राज्य सरकारों से केवल मानक किराया वसूल रहा है, जो रेलवे की कुल लागत का महज 15 प्रतिशत है। रेलवे ने केवल राज्यों द्वारा प्रदान की गई सूचियों के आधार पर यात्रियों को ट्रेनें में यात्रा की अनुमति दी है।”

रेल मंत्रालय के सूत्रों के बताया है कि रेलवे ने देश के विभिन्न हिस्सों से अब तक 34 श्रमिक विशेष ट्रेनें चलाई हैं और संकट के इस समय में विशेष रूप से गरीब से गरीब लोगों को सुरक्षित और सुविधाजनक यात्रा प्रदान करने की अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को पूरा कर रही है।

रेलवे ने इस दौरान कोरोना वायरस लॉकडाउन के नियमों को पालन करते हुए शारीरिक दूरी को बनाए रखने के लिए प्रत्येक कोच में एक बर्थ खाली रखते हुए श्रमिक विशेष ट्रेनें चला रहा है। प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाने के लिए गाड़ियों को पूरी तरह लॉक रखा जा रहा है और वापस में पूरी ट्रेैन खाली रही हैं। रेल मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि रेलवे द्वारा प्रवासी मजदूरों को मुफ्त भोजन और बोतलबंद पानी दिया जा रहा है। देश में इन दिनों प्रवासी मजदूरों से रेल किराया वसूसले के मुद्दे पर राजनीति गर्माई हुई है।

कांग्रेस ने इस मुद्दे पर राजनीति करते हुए सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लॉकडाउन के दौरान रेल यात्रा के लिए प्रवासी मजदूरों से रेल किराया चार्ज करने के लिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastaklko
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q

Related Articles

Back to top button