State News- राज्यछत्तीसगढ़

प्रधानमंत्री मोदी ने देश को समर्पित किया IIT भिलाई, 1090 करोड़ की लागत से तैयार हुआ है 400 एकड़ में फैला यह कैंपस

भिलाई : भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आईआईटी भिलाई का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल उद्घाटन कर देश को समर्पित कर दिया। जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में एक सार्वजनिक समारोह से पीएम मोदी बटन दबाकर देश को आईआईटी भिलाई समर्पित किया। इधर आईआईटी भिलाई के नालंदा व्याख्यान कक्ष में हुए कार्यक्रम में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय वर्चुअली कार्यक्रम में शामिल हुए।

दुर्ग सांसद विजय बघेल, आईआईटी भिलाई की गवर्निंग बॉडी अध्यक्ष के. वेंकटरमणन और आईआईटी भिलाई के डायरेक्टर प्रो. राजीव प्रकाश शामिल हुए। यह कार्यक्रम ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरह से कराया जा रहा है। इससे पहले तक कयास लगाई जा रही थी कि पीएम मोदी खुद भिलाई आएंगे और देश के 23वें शीर्ष संस्थान आईआईटी भिलाई का उद्घाटन करेंगे। पीएम के भिलाई आगमन को लेकर चार बार तारीखें बदली गई। बहरहाल, अब पीएम ने वर्चुअल ही सही आईआईटी भिलाई के उद्घाटन कार्यक्रम को हरी झंडी दे दी है।

भिलाई के कुठेलाभाटा में आयोजित कार्यक्रम में सीएम विष्णुदेव साय, सांसद विजय बघेल, विधायक डोमन लाल कोर्सेवाड़ा और ललित चन्द्राकर मौजूद रहे. पीएम ने वर्चुअली IIT भिलाई का स्थायी कैंपस देश को समर्पित किया. कवर्धा और कुरुद में केन्द्रीय विद्यालय के नवनिर्मित भवनों का ऑनलाइन लोकार्पण किया.

आईआईटी भिलाई की खासियत: आईआईटी भिलाई देश का 23वां आईआईटी संस्थान है. आईआईटी भिलाई का कैंपस 358 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है. 879.22 करोड़ की लागत से बिल्डिंग और दूसरे काम कराए गए हैं. IIT भिलाई में 2500 छात्रों की क्षमता है. वर्तमान में 700 छात्र यहां पढ़ाई कर रहे हैं. पिछले साल जुलाई से नया शैक्षणिक सत्र शुरू कर दिया गया है. यह थ्रीडी आईआईटी है, जिसे थर्ड जनरेशन आईआईटी कहते हैं. यहां डिपार्टमेंट डिसीप्लिन प्रोग्राम भी हैं. यहां छोटे कोर्सेस, डिप्लोमा कोर्सेस और सर्टिफिकेट कोर्सेस हैं.

कवर्धा और कुरुद केंद्रीय विद्यालय को मिला नया भवन: कवर्धा में आयोजित कार्यक्रम में राजनांदगांव लोकसभा सांसद संतोष पाण्डेय, जिलापंचायत अध्यक्ष सुशीला रामकुमार भट्ट, कलेक्टर जनमेजय मोहबे,जिला पंचायत सीईओ संदीप अग्रवाल, स्कूल प्राचार्य – स्टाफ व स्कूली बच्चे और बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे. कवर्धा के महाराजपुर में साल 2017 में 2.56 करोड़ की लागत से केंद्रीय विद्यालय की आधारशिला रखी गई थी. जिसका लोकार्पण पीएम मोदी ने किया. वर्तमान में स्कूल ऑऊडोर स्टेडिम के बिल्डिंग में संचालित हो रहा था. स्कूल में कुल 486 छात्र छात्राएं हैं.

देशभर में कई आईआईटी और भिलाई आईआईटी, आईआईएस और IIM की सौगात: पीएम मोदी ने IIT तिरूपति, आईआईटी जम्मू, आईआईआईटीडीएम कांचीपुरम भी देश को समर्पित किया. इसके अलावा भारतीय कौशल संस्थान आईआईएस कानपुर, देवप्रयाग और अगरत्तला केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय की भी सौगात भी देश को दी. प्रधानमंत्री देश में तीन नए आईआईएम यानी आईआईएम जम्मू, आईआईएम बोधगया और आईआईएम विशाखापत्तनम का उद्घाटन किया.

भिलाई आईआईटी में निर्मित भवनों के नाम छत्तीसगढ़ के प्रमुख नदियों और पर्वतों के नाम पर रखे गए हैं. आईआईटी भिलाई का यह परिसर 400 एकड़ में फैला है. इसके निर्माण में कुल 1090 करोड़ की लागत आई है. इसे बनाने में चार वर्ष का समय लगा है.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए लगातार काम किए जा रहे हैं. इससे पहले समवार को प्रदेश के 211 स्कूलों को पीएम श्री योजना के तहत विकसित करने का भी केंद्रीय मान संसाधन विकास मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को की थी.

Related Articles

Back to top button