International News - अन्तर्राष्ट्रीय

रूस ने कीव पर दागी थी 70 मिसाइलें, यूक्रेन ने 51 को किया ध्वस्त, 10 की मौत व 36 घायल

नई दिल्ली: यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूस ने बड़े स्तर पर मिसाइल हमले किए हैं. रूसी सेना ने खासतौर पर यूक्रेन के एनर्जी सिस्टम और रिहायशी इलाके को निशाना बनाया है. रूसी हमले में कई बिल्डिंग को नुकसान पहुंचा है और कई बिल्डिंग हमले की वजह से ढह गए हैं. बताया जा रहा है कि रूस ने एक के बाद एक 70 मिसाइल हमले किए, जिसमें यूक्रेनी सेना ने 51 मिसाइलों को मार गिराया. रूस ने KH-101, KH-555 और कलीब्र क्रूज जैसी घातक मिसाइलें दागी हैं. यूक्रेन का दावा है कि रूसी सेना ने हमले के लिए लैंसेट ड्रोन का भी इस्तेमाल किया है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रूस ने 23 नवंबर को यूक्रेन पर बड़े स्तर पर मिसाइल हमले किए. इस हमले में कई आम नागरिक मारे गए हैं. हमले में खासतौर पर रूस के एनर्जी इन्फ्रास्ट्रक्चर को निशाना बनाया गया है, जिससे यूक्रेन कई कई शहरों में ब्लैकआउट की स्थिति पैदा हो गई है. रिपोर्ट के मुताबिक कीव, लवीव और मोल्दोवा जैसे शहरों में सबसे ज्यादा मिसाइल हमले किए गए हैं. यूक्रेनी गृह मंत्री ने बताया कि मोनाट्रिस्की में भारी बमबारी में 10 लोगों की मौत हो गई. इनमें आधे से ज्यादा वाइशोरोड में मारे गए हैं, जहां हमले में एक आवासीय बिल्डिंग नष्ट हो गया है.

कीव के गवर्नर ओलेक्सी कुलेबा ने बताया कि कीव बमबारी में 36 लोग घायल हो गए हैं. हालांकि हमले में कुल कितने लोग घायल हुए, खबर लिखे जाने तक इसका पता लगाया जा रहा था. कीव के मेयर ने जानकारी दी कि राजधानी में एक मिसाइल स्ट्राइक में तीन लोग मारे गए, जिसमें एक 17 वर्षीय लड़की भी शामिल है और 11 लोग घायल हुए हैं. रूस ने कीव पर 31 मिसाइल हमले किए, जिसमें 21 को यूक्रेनी सेना ने हवा में ही मार गिराया.

मेयर ने बताया कि कीव में रात 10 बजे तक 80 फीसदी से ज्यादा लोग अंधेरे में थे. रिपोर्ट में बताया गया कि इसको ठीक करने में घंटों लग सकते हैं. 23 नवंबर को मेयर ने यह भी बताया कि सर्दी बढ़ रही है और ऐसे में कीव को खाली कराया जा सकता है. कीव में तापमान लगातार गिर रहा है और बिजली संकट की वजह से वे लोग अंधेरे में रहने को मजबूर हैं.

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि रूस ने यूक्रेन पर 70 से मिसाइल हमले किए, यूक्रेन ने 51 मिसाइलों को मार गिराया. यूक्रेन एयर फोर्स ने बताया कि रूस ने हमले के लिए KH-101, KH-555 और कलीब्र क्रूज जैसी घातक मिसाइलों का इस्तेमाल किया. इस बीच यूक्रेन ने युनाइटेड नेशन सिक्योरिटी काउंसिल की मीटिंग बुलाने को कहा है. उधर अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस समेत पश्चिमी गुट के कई देशों ने इस हमले की निंदा की.

Unique Visitors

13,771,078
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button