कोटा-बारां राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्कॉर्पियो पलटी, पांच की मौत

कोटा-बारां राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्कॉर्पियों पलटी, पांच की मौत

कोटा : कोटा-बारां राष्ट्रीय राजमार्ग पर सिमलिया थाना क्षेत्र के कराडिय़ा गांव के पास तेज रफ्तार एक स्कॉर्पियों सोमवार की रात खेत में पलट गई। इस हादसे में स्कॉर्पियों सवार पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि चार लोग घायल हो गए हैं। स्थानीय पुलिस सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाकर मामले की जांच कर रही है। घायलों की हालत गंभीर बताई गई है।

स्कॉर्पियों का टायर फटने से हुआ हादसा

सिमलिया थाना पुलिस के अनुसार दुर्घटना का कारण स्कॉर्पियों का टायर फटने से अनियंत्रित होना है। तेज रफ्तार स्कॉर्पियों हाईवे से नीचे खेत में पलट गई। स्कॉर्पियों में कुल 12 लोग सवार थे और ये सभी एक समारोह में शामिल होकर बारां से कैथून लौट रहे थे।

यह भी पढ़े: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 16,432 नए मामले, 252 लोगों की मौत – Dastak Times 

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें www.dastaktimes.org  के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए  https://www.facebook.com/dastak.times.9 और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें। साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़-वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनल  https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos पर। तो फिर बने रहिये  www.dastaktimes.org के साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।   

हादसे में पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसे की सूचना मिलने के बाद सिमलिया थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घायलों को 108 की सहायता से एमबीएस पहुंचाया।

मृतकों में शामिल है

मृतकों की पहचान 40 वर्षीय बिलाल, 35 वर्षीय राशिद परवेज, 28 वर्षीय मुजाद्दीन, 35 वर्षीय परवेज और 40 वर्षीय हसन के रूप में हुई है। जो चार लोग घायल हैं, उनके नाम आशिक हुसैन, तालिक, मुस्तफा और खलील हैं। ये सभी कैथून कस्बा के कोट मोहल्ला के निवासी हैं। इनके अलावा बाकी के तीन लोग रविज अख्तर, अब्दुल हलीम और आशिक को मामूली चोटें आई हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार स्कॉर्पियों की स्पीड बहुत तेज थी। हाईवे से नीचे दो-तीन बार पलटी, वहीं दुर्घटना की खबर मिलते ही कोट मोहल्ला में मातम छा गया। जिन पांच परिवारों ने यह गम सहा है, उन्हीं के पड़ोसी और रिश्तेदार एमबीएस अस्पताल में मौत और जिंदगी के बीच अभी जूझ रहे हैं। उनकी हालत बहुत चिंताजनक बताई जा रही है।