पंजाब

बेटे ने पीट-पीट कर की पिता की हत्या, चिता बुझा कर पुलिस ने कब्जे में लिया अधजला शव

फतेहगढ़ साहिब: जिला फतेहगढ़ साहिब के अधीन पड़ते थाना बडाली आला सिंह के अंतर्गत आते गांव ताजपुर में एक व्यक्ति ने अपने पिता की पीट-पीट कर कथित तौर पर हत्या कर दी। आरोपी ने सबूत मिटाने के लिए सुबह 5 बजे ही अपने पिता का संस्कार भी कर दिया। उधर मृतक के भाई द्वारा पुलिस को सूचना देने पर पुलिस ने श्मशानघाट में जल रही मृतक की चिता की आग बुझा कर अधजली लाश कब्जे में लेकर आरोपी को काबू कर लिया है। थाना बडाली आला सिंह की पुलिस के पास मृतक के भाई गुरदास सिंह (61) ने बयान दर्ज करवाया है कि वह ज्ञान सिंह सरपंच के घर से दूध लेकर गली में जा रहा था तो उसको लोगों ने बताया कि उसके भाई अमर सिंह को घर में उसका भतीजा धर्मेंद्र सिंह पीट रहा है। वह अपने भतीजे धर्मेंद्र सिंह से डरता उसे छुड़वाने के लिए नहीं गया कि कहीं वह उससे भी मारपीट न कर दे, क्योंकि उसने पहले भी मारपीट करके उसकी टांग तोड़ दी थी जिस कारण वह अपने घर चला गया।

उसने बताया कि दूसरे दिन जब सुबह-सुबह उसको पता लगा कि धर्मेंद्र सिंह मारपीट के पश्चात खुद ही घायल पिता को इलाके के अलग-अलग निजी अस्पतालों में इलाज के लिए ले गया। इस दौरान उसके भाई की मौत होने के कारण वह (भतीजा) उसे वापस घर ले आया। गुरदास सिंह ने बताया कि उसके भतीजे ने अपने मृतक पिता का सुबह-सुबह करीब 5 बजे गांव ताजपुरा के श्मशानघाट में संस्कार कर दिया। जब उसने श्मशानघाट जाकर देखा तो उसके भाई अमर सिंह की चिता जल रही थी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस चौकी चुन्नी कलां के इंचार्ज कश्मीरी लाल, ए.एस.आई. ज्ञान सिंह ने पुलिस पार्टी सहित मौके पर पहुंच कर देखा तो श्मशानघाट में चिता जल रही थी, जिसकी सूचना उन्होंने सीनियर पुलिस अधिकारियों को दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके मौके पर फोरैंसिक टीम/फिंगर प्रिंट ब्यूरो बुला कर जल रही चिता पर पानी डाल कर आग बुझाई। थाना प्रमुख अर्शदीप शर्मा ने बताया कि आरोपी को अदालत में पेश करके उसका 2 दिन का पुलिस रिमांड हासिल करके कार्रवाई शुरू कर दी गई।

Unique Visitors

13,771,111
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... A valid URL was not provided.

Related Articles

Back to top button