State News- राज्यछत्तीसगढ़

सी-मार्ट के खुलने और बंद होने का समय ग्राहकों की सुविधानुरूप हो- मुख्यमंत्री

रायपुर ; मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में महिला समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों की सी-मार्ट में खरीदी- बिक्री की समीक्षा बैठक ली। बैठक में मुख्यमंत्री ने बिक्री बढ़ाने पर जोर देते हुये कहा कि सी-मार्ट का उद्देश्य स्थानीय उत्पादों एवं महिला स्व सहायता समूहों, कुम्भकारों, अन्य पारंपरिक कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देना है। इसके साथ ही सी-मार्ट के माध्यम से स्थानीय निवासियों को रोगजार के बेहतर अवसर और नागरिकों को एक ही स्थान पर गुणवत्तायुक्त वस्तुएं उचित कीमत पर उपलब्ध करायी जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि सी-मार्ट में उत्पादों की अधिक बिक्री स्थानीय बाजार और रोगजार को बढ़ावा देगी। सी-मार्ट के उत्पादों को लोकप्रिय बनाने के लिये अच्छी मार्केटिंग की जाये। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि उत्पादों की बिक्री के लिये स्वच्छता दीदियों, मितानिनों की सहायता ली जा सकती है इससे उन्हें भी अतिरिक्त आय होगी। इसके साथ ही उत्पादों का सोशल मीडिया में प्रचार-प्रसार भी करें। बघेल ने कहा कि सी-मार्ट के खुलने और बंद होने का समय ग्राहकों की सुविधा के अनुरूप होना चाहिये। उन्होंने निर्देश दिये कि ऐसी व्यवस्था बनायें जिससे अधिक से अधिक ग्राहक अपनी सुविधानुसार सी-मार्ट आ सकें। उन्होंने कहा कि इस बात को सुनिश्चित करें कि उत्पादकों का भुगतान तत्काल हो।

समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने बताया कि राज्य के 29 सी-मार्ट में पिछले 9 माह में कुल 70 लाख से अधिक की बिक्री की गयी है। इन सी-मार्ट में सबसे अधिक बिक्री के उत्पादों में मास्क, साबुन, दोना पत्तल, ग्लिसरीन, सरसों तेल, महुआ सैनिटाईजर इत्यादि शामिल है। बैठक में वन मंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी एवं प्रदीप शर्मा, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ, मुख्यमंत्री के सचिव डी.डी. सिंह, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव प्रसन्ना आर, राजस्व एवं आपदा विभाग के सचिव एनएन एक्का, पीसीसीएफ राकेश चतुवेर्दी, राज्य लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक संजय शुक्ला, अरूण प्रसाद उपस्थित रहे।

Unique Visitors

12,945,788
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button