State News- राज्यTOP NEWSउत्तर प्रदेश

UP: शीतलहर ने छुड़ाई कंपकंपी, ठंड से तीन लोगों की मौत

पांच दिन पहले बारिश के बाद अब मौसम का मिजाज बदल गया है। यह कोल्ड फ्रंट का ही असर है कि मंगलवार सुबह पहले बादल छाए रहे और बाद में धूप भी खिली लेकिन वह भी असरदार नहीं रही। अब तो शीतलहर भी कंपकंपी छुड़ाने लगी है। मौसम में बदलाव का असर है कि पिछले 24 घंटे में तापमान में भी भारी कमी दर्ज की गई है। वहीं शहर में ठंड से एक वृद्ध की मौत हो गई।

सोमवार को अधिकतम तापमान 22 डिग्री की तुलना में 17 डिग्री सेल्सियस तक आ गया जबकि न्यूनतम तापमान 12.7 की जगह 11.7 पर आ गया है। मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक अभी सप्ताह भर मौसम ऐसे ही बना रहेगा। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का असर अब दिखने लगा है। जहां एक ओर ठंडी हवाएं चलने से कोहरा शुरू हो गया है वहीं अब शीतलहर की वजह से लोग ठिठुरने लगे हैं।

मंगलवार को दोपहर 12 बजे के बाद धूप भी निकली लेकिन हवा चलने की वजह से कोई असर नहीं रहा। अन्य दिनों की तुलना में मंगलवार को गलन अधिक रही और देर रात से कोहरा फिर पड़ने लगा। इस बीच नम और ठंडी हवाएं चलने का ही असर है कि ठिठुरन भी मंगलवार को अधिक रही।

ठंड लगने से तीन की मौत
वाराणसी के जंसा थाना क्षेत्र के हाथी बाजार निवासी लल्लू जैन की (70) मंगलवार सुबह ठंड लगने से मौत हो गई। चंदौली में बरहनी विकास खंड के भुआलपुर जेवरियाबाद गांव निवासी नन्हकी प्रजापति (55) पत्नी गुल्लू प्रजापति की ठंड के चलते मंगलवार भोर में मौत हो गई। बलिया में रेवती क्षेत्र के नौका गांव में सोमवार रात शांति देवी (45) पत्नी गणेश यादव की भी मौत हो गई।

खुद ही जलाना पड़ रहा अलाव
शीतलहर का सबसे बुरा हाल सड़कों पर जीवन यापन करने वाले मजदूरों का रहा। हालांकि नगर निगम की ओर से अब तक अलाव की कोई व्यवस्था नहीं की जा सकी है ऐसे में चौराहों, घाटों पर लोग खुद ही अलाव जलाकर वहां बैठे रहे। शहर के चौराहों के साथ ही घाटों पर भी अलाव जलाकर लोग उसके चारों तरफ बैठे रहे। यहां भी स्थानीय और बाहरी जगहों से काशी घूमने आने वाले युवाओं ने आसपास पड़ी लकड़ी को जलाया।

तापमान में और कमी आने की संभावना
मौसम वैज्ञानिक एसएन पांडेय ने बताया कि कोल्ड फ्रंट आने का असर अब दिखने लगा है। हवा में नमी अधिक है और रफ्तार भी पांच से दस किलोमीटर प्रतिघंटा चल रही है। ऐसे में गलन बढ़ने में तापमान में अभी और कमी और कोहरा होने की संभावना है। आसमान में बादल छाए रहने के साथ ही बनारस और उसके आसपास के कुछ जिलों में मौसम बिगड़ने की संभावना है।

Unique Visitors

13,063,332
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button