Breaking News

हृदयनारायण दीक्षित

अद्धयात्म दस्तक-विशेष फीचर्ड साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

इतिहास भूत होता है। इसमें जोड़ घटाव उचित नहीं होता। जैसा घटित हुआ, वैसा ही इतिहास बना। हम चाहकर भी भूतकाल नहीं बदल सकते। लेकिन इस भूत इतिहास ...
Comments Off on हमारी नस-नस में हैं इतिहास के महानायक श्रीकृष्ण
अद्धयात्म दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

भाव का केन्द्र हृदय है और ज्ञान का केन्द्र बुद्धि। बुद्धि का आधार स्मृति है। हम प्रत्यक्ष जगत का विवेचन करते समय स्मृति को ही आधार बनाते हैं। ...
Comments Off on भाव और विचार एक नहीं होते
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

  अभिव्यक्ति हरेक व्यक्ति की स्वाभाविक अभिलाषा है। हम स्वयं को भिन्न-भिन्न आयामों में प्रकट करते हैं। अपने बाल काढ़ने का ढंग, मूंछों को छोटी, बड़ी या सफाचट ...
Comments Off on सोशल मीडिया में सत्य, शिव और सुंदर