मानसून सत्र : बॉलीवुड की तुलना गटर से करने वालों को जया बच्चन ने लगाई फटकार

मानसून सत्र : बॉलीवुड की तुलना गटर से करने वालों को जया बच्चन ने लगाई फटकार

नई दिल्ली (एजेंसी): समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने आज राज्यसभा में कहा कि सिनेमा उद्योग एक बुरे दौर से गुजर रहा है लेकिन सरकार इस ओर समुचित ध्यान नहीं दे रही है और कुछ लोग हालत से ध्यान भटकाने के लिए अनाप- शनाप बयान दे रहे हैं।

(Samajwadi Party MP Jaya Bachchan spoke about an alleged ‘conspiracy to defame the film industry’ on the second day of the Monsoon Session in Parliament. She had given a Zero Hour notice in Rajya Sabha, which can be raised for critical matters with the approval of the Speaker)

सदन में शून्यकाल के दौरान सिनेमा जगत की खस्ताहाल स्थिति का मुद्दा उठाते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की बदौलत नाम कमाने वाले कुछ लोग अब इसे गटर की संज्ञा दे रहे हैं। ये लोग सोशल मीडिया की शह पर लोगों का ध्यान भटकाने में लगे हैं।

उन्होंने कहा कुछ लोग जिस थाली में खाया उसी में छेद कर रहे हैं। स्थिति पर अफसोस जताते हुए उन्होंने कहा कि विकट परिस्थिति में इस उद्योग को सरकार की मदद नहीं मिल रही है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि सरकार इन लोगों से इस तरह की भाषा से बचने के लिए कहेगी।

इस मामले पर सरकार का समर्थन लेने के लिए बच्चन ने सभापति एम. वैंकेया नायडू से कहा, सर, मैं बात करना चाहती हूं। नायडू ने उन्हें रोककर मास्क पहनने के लिए कहा तो वह बोलीं कि इससे उनकी आवाज साफ नहीं आएगी।

एसपी साहब से मुझे खतरा है और हो गई मौत, अब ऑडियो आया

इसके बाद उन्होंने अपना परिचय देते हुए कहा, मेरा नाम जया बच्चन है। इस पर नायडू ने कहा कि वे मशहूर हैं और उन्हें अपना परिचय देने की जरूरत नहीं है।

इस पर उन्होंने जबाव दिया, लेकिन उसी उद्योग को कलंकित किया जा रहा है। मनोरंजन उद्योग हर रोज 5 लाख रोजगार देता है और अप्रत्यक्ष तौर पर 50 लाख लोगों को आजीविका देता है।

उन्होंने आगे कहा, ऐसे समय में जब स्थिति निराशाजनक है और रोजगार सबसे खराब स्तर पर है। लोगों का ध्यान हटाने के लिए सोशल मीडिया के जरिए हमें कोसा जा रहा है। ऐसा इसीलिए है क्योंकि इण्डस्ट्री को सरकार का समर्थन नहीं मिल रहा है।

किसी का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, जिन लोगों ने उद्योग के जरिए नाम कमाया है, उन्होंने इसे एक नाली (गटर) कहा है। मैं पूरी तरह से असहमत हूं। मैं इनसे खुद को अलग करती हूं। मुझे उम्मीद है सरकार ऐसा करने वालों को रोकेगी।

उन्होंने कहा कि उद्योग में ऐसे लोग हैं, जो सबसे ज्यादा टैक्स देने वालों में शामिल हैं और उन्हें परेशान किया जा रहा है।

उन्होंने आगे कहा, मुझे लगता है कि सरकार को मनोरंजन उद्योग के साथ खड़े होना चाहिए क्योंकि सरकार जो भी प्रयास करती है इण्डस्ट्री हमेशा मदद के लिए आगे आती है। यदि राष्ट्रीय आपदा आती है तो वे पैसा देते हैं। कुछ लोगों (बुरे काम करने वाले) के कारण आप पूरे उद्योग की छवि को धूमिल नहीं कर सकते।

दिग्गज अभिनेत्री ने बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन से शादी की है। उन्होंने आगे कहा कि मनोरंजन उद्योग ने देश की अंतरराष्ट्रीय नाम और पहचान बनाई है।

गोरखपुर से भाजपा सांसद और अभिनेता रवि किशन का नाम लिए बिना जया बच्चन ने उनके लिए कहा, मैं वास्तव में शमिर्ंदा हूं कि एक लोकसभा सांसद ने फिल्म उद्योग के खिलाफ बात की। जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं।

आपको बता दें कि 26 अगस्‍त को कंगना ने एक ट्वीट किया था और लिखा था, ‘अगर नार्कोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो बॉलिवुड की जांच करता है तो पहलीं पंक्ति के कई सितारे सलाखों के पीछे होंगे। अगर ब्‍लड टेस्‍ट हुए तो कई चौंकाने वाली बातें सामने आएंगे। उम्‍मीद है कि प्रधानमंत्री जी स्‍वच्‍छ भारत मिशन के तहत बॉलिवुड जैसे गटर को साफ करेंगे।’ इसमें उन्होंने पीएमओ को भी टैग किया था।

दोस्तों देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें www.dastaktimes.org के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastak.times.9 और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें।

साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़-वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनल https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos पर। तो फिर बने रहिये www.dastaktimes.org के साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।