International News - अन्तर्राष्ट्रीय

नासा ने खत्म किया चांद मिशन

moon missionवॉशिंगटन। नासा ने चांद के बारे में और गहन खोज के लिए अंतरिक्ष में भेजा गया रोबोट एलएडीईई (लूनर एटमोसफेयर एण्ड डस्ट एनवायरमेंट एक्सप्लोरर) को नष्ट कर दिया है। एलएडीईई प्रोजेक्ट के वैज्ञानिक रिक एल्फिक के मुताबिक पिछले हफ्ते एलएडीईई को एक सुनियोजित मिशन के तहत चांद की सतह से 57०० किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से टकराया गया। जिसके बाद यह चकनाचूर हो गया। अमेरिका की अंतरिक्ष एंजेसी के मुताबिक एलएडीईई का ईंधन लगभग समाप्त हो चुका था और लंबे समय तक इसका अंतरिक्ष में रहना असंभव था। इसलिए उसे नष्ट करने का फैसला किया गया। इसे पिछले साल सितंबर में अमेरिका के वर्जीनिया से छोड़ा गया था। नासा ने बताया की इस स्पेशक्राफ्ट को जहां इसे क्रैश कराने का फैसला लिया गया था उससे बहुत दूर जाकर यह विमान नष्ट हुआ। हालांकि फिर भी यह टकराव सुरक्षित रहा। नासा ने बताया कि इस टकराव से चांद पर उस जगह को कोई नुकसान नहीं हुआ जहां कभी पहले अंतरिक्ष यात्री नील आम्र्सस्ट्रांग और एलड्रीन उतरे थे। उनके पांव के निशान  झंडा तथा कुछ और इंसानी चीजें सुरक्षित हैं। एलएडीईई ने अपने अंतरिक्ष यात्रा के दौरान ऑर्बिट के करीब 1०० सफल चक्कर लगाए और कई अहम जानकारियां बटोरी। नासा ने यह भी साफ किया कि अभी एलएडीईई के चांद से टकराने के ठीक समय की जानकारी नहीं मिल पाई है। नासा उस जगह की किसी तस्वीर को हासिल करने की कोशिश में भी जुटा है ताकि उसके टकराव के प्रभाव का अध्ययन किया जा सके।  

Unique Visitors

12,922,282
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button