उप्र में अब तक 12.74 लाख लोगों ने लगवाया कोरोना का टीका

उप्र में अब तक 12.74 लाख लोगों ने लगवाया कोरोना का टीका

लखनऊ: प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य लगातार चल रहा है। अभी तक कुल 12,74,670 स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कस को वैक्सीन की पहली व दूसरी डोज दी जा चुकी है, जो पूरे देश में किसी भी राज्य में सर्वाधिक है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, अमित मोहन प्रसाद ने मंगलवार को बताया कि राज्य में अब तक 7,14,500 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है जो कि 76.6 प्रतिशत है। इनमें से 1,01,936 स्वास्थ्य कर्मी अपनी दूसरी डोज भी ले चुके हैं। उन्होंने कहा कि वहीं 4,58,234 फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। इस तरह लगभग सभी स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। इन दोनों समूह के जो लोग छूट गए हैं, उन्हें 25 फरवरी को वैक्सीन की पहली डोज लगवाने का अन्तिम अवसर दिया जाएगा।

इस दिन अगर वह छूट जाते हैं, तो इसके बाद उन्हें आयुवर्ग के मुताबिक ही वैक्सीन लगाने का मौका मिलेगा। प्रदेश में अब 50 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों को वैक्सीन लगाने का कार्य शुरू होने जा रहा है। इसलिए छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मी या फ्रंटलाइन वर्कर्स, जो इस उम्र के दायरे में होंगे, वही इस श्रेणी में वैक्सीन लगवा सकेंगे, जबकि अभी तक उनके लिए आयु सीमा का बन्धन नहीं है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी तक कुल 11,72,734 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। वहीं 1,01,936 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। इस तरह कुल मिलाकर 12,74,670 व्यक्तियों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है, जो देश में किसी भी राज्य के लिए सर्वाधिक है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 108 नये मामले सामने आये हैं। इसी दौरान 202 मरीज स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए। नये मरीजों की तुलना में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या लगातार अधिक बनी हुई है। इस वजह से प्रदेश में कोविड-19 का रिकवरी 98.18 प्रतिशत चल रहा है।

राज्य में अब सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 2,268 हो गई है। उन्होंने बताया कि कुल एक्टिव मामलों में से 518 लोग होम आइसोलेशन में हैं। इसके अतिरिक्त शेष लोग निजी चिकित्सालयों और एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। वहीं अब तक संक्रमण से कुल 8,718 लोगों की मौत हुई है।

प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,23,335 सैम्पल की जांच की गयी। वहीं अब तक कुल 3,06,69,496 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक 5,91,989 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से चौबीस घंटे में 5,041 लोग तथा अब तक कुल 5,44,708 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,85,510 क्षेत्रों में 5,11,710 टीम दिवस के माध्यम से 3,14,74,195 घरों के 15,28,35,662 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र, केरल में कोरोना के मरीज फिर से बढ़ना शुरू हो गए हैं। प्रतिदिन हजारों की संख्या में मामले सामने आ रहे हैं, ऐसे में अगर लोग सावधानी बरतना छोड़ेंगे और लापरवाही करेंगे तो हमारे वहां भी संक्रमण के मामले बढ़ सकते हैं। इसलिए अत्यधिक सावधान रहने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़े: भारतीय सेना में शामिल हुए 94 नये गोरखा रंगरूट, देश रक्षा की दिलाई गई शपथ – Dastak Times 

  1. देशदुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहें http://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुकपर फॉलों करने के लिए : https://www.facebook.com/dastak.times.9
  3. ट्विटरपर फॉलों करने के लिए : https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनलके लिए: https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos