प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नया कृषि कानून किसानों के हित मे :भाजपा

तीन राज्यपालों को डी.लि. की मानद उपाधि से सम्मानित करेगा श्री जेजेटी विश्वविद्यालय

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व विधायक संजय सिंह टाइगर ने सोमवार को आरा परिषदन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने नए कृषि कानून बनाकर किसानों के हित मे बड़े कार्य किये है।

किसानों के मेहनत से उपजाए गए फसल के दाम में बिचौलियों की कट रही चांदी खत्म हो गई है। उधर पंजाब की सरकार किसानों को सुविधा देने की बजाय उनके अनाज पर टैक्स वसुलकर किसानों का आर्थिक शोषण करती है। नए कृषि कानून से अब पंजाब सरकार को न ही किसानों का आर्थिक शोषण करने का मौका मिलेगा और न ही टैक्स के रूप में बड़ी राशि की वसूली ही हो पायेगी।

उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार इसीलिए नए कृषि कानून का विरोध कर रही है और किसानों का शोषण करने वाले बिचौलियों का साथ देकर कांग्रेस और विपक्षी पार्टियां अपनी सियासी राजनीति को चर्चा में लाने का प्रयास करने में लगी है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसकी अगुवाई में खड़े दल और विपक्ष देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर उस राष्ट्र हित के बनाये जा रहे कानून का विरोध करने में लगा है जिसके साथ देश की जनता खड़ी है।

यह भी पढ़े: मास्क न पहनने पर 250 दिनों में 21.40 लाख लोगों पर 93.56 करोड़ का जुर्माना 

कांग्रेस और विपक्ष देश की जनता को गुमराह करने की हर वह कोशिश कर रहा है जो राजनीति में नही होना चाहिए।देश की एकता,अखंडता और संप्रभुता को दांव पर लगाने वाली कांग्रेस और देश का विपक्ष अब तो कृषि कानून के विरोध के नाम पर राष्ट्र विरोधी ताकतों से हाथ मिलाकर देश मे जिन्ना और खालिस्तान के पक्ष में नारे लगवा रहा है।टुकड़े टुकड़े गैंग विपक्ष का पीएम मोदी के विरोध का हथियार बना हुआ है। उन्होंने कहा कि देश के किसान बात को समझ रहे हैं और इसीलिए देश मे कही कोई किसान नए कृषि कानून का विरोध नही कर रहे हैं।

भाजपा के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रेम रंजन चतुर्वेदी ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों के बीच फैलाये जा रहे अफवाहों को दूर करने और नए कृषि कानून की सच्चाई से किसानों को अवगत कराने के लिए जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में आगामी 25 दिसंबर तक किसान चौपाल लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की जमीन हथियाने का प्रयास करने वाले माले और दूसरे वामदल किसानों के हित की बात कर किसको मूर्ख बनाना चाहते हैं।

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंwww.dastaktimes.orgके साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastak.times.9और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें। साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़-वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनल https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videosपर। तो फिर बने रहियेwww.dastaktimes.orgके साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।