सरहनीय : भारत और मारिशस के आम नागरिकों को जोङने की पहल

सरहनीय : भारत और मारिशस के आम नागरिकों को जोङने की पहल

नई दिल्ली : भारत और मारिशस के आम नागरिकों को जोङने की पहल को लेकर सविता तिवारी समेत 10 लोगों की टीम ने एक डिजिटल प्लेटफार्म की लांचिंग की है। इस प्लेटफार्म के जरिए न सिर्फ मारिशस के लोग भारत से संबंधित सवालों का जवाब पा सकेंगे बल्कि भारतीय भी मारिशस से संबंधित तमाम जिज्ञासाओं का हल पा सकेंगे। यह लांचिंग 18 जनवरी 2021 को हुई। इस मौके पर मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्वीराज सिंह रूपन को राष्ट्रपति भवन स्टेट हाउस में एक स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। प्लेटफॉर्म का उद्देश्य दोनों देशों के आम नागरिकों को आपस में जोड़ना है।

आपस में कर सकते है सीधी वार्ता

आपको बता दे कि प्लेटफार्म स्थानीय स्तर पर मॉरीशस में भारतीय संस्कृति पर आधारित विभिन्न कार्यक्रम एवं कार्यशाला को आयोजित करेगा। इसी के साथ ही यदि किसी भारतीय के मन में मॉरीशस को लेकर कोई प्रश्न है तो प्लेटफार्म के माध्यम से हम वह प्रश्न मॉरीशन नागरिकों तक पहुंचाएंगे और प्रश्न कर्ता को जवाब साधे मॉरीशन नागरिक से मिलेंगे। इसी तरह मॉरीशस नागरिकों की भारत को लेकर जिज्ञासाओं के जवाब भारतीय दे पाएंगे।

राष्ट्रपति रूपन ने इस पहल की सराहना करते हुए कहा

भारत एक बहुत ही वृहद देश है मॉरीशनों के लिए भारत के हर स्थान एवं स्थानीय इतिहास की जानकारी इकट्ठा करना बहुत मुश्किल कार्य होता है। ऐसे में इस प्लेटफार्म के माध्यम से स्थानीय लोगों द्वारा इतिहास एवं स्थानीय जगहों की फ़र्स्ट हैंड जानकारी उपलब्ध होने से भारत यात्रा और सहज हो पाएगी। उन्होंने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि यह प्लेटफॉर्म पहले होता तो हमें भी बोधगया जाने से पहले वहां का महत्व एवं अन्य बातें पता चल जाती और बनारस जाने से पहले कहां से शॉपिंग की जाए यह पता चल पाता।

ये भी पढ़ें :- नागरिकों को उपद्रवियों से सुरक्षा देना पुलिस का कर्तव्य : अमित शाह 

  1. देशदुनियाकी ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंorg  के साथ।
  2. फेसबुकपरफॉलों करने के लिए : https://www.facebook.com/dastak.times.9
  3. ट्विटरपरपर फॉलों करनेके लिए : https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथहीदेश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनलकेलिए : https://www.youtube.com/c/DastakTimes/videos

ज्ञात हो कि मॉरीशस सबसे बड़ा भारतीय डायस्पोरा है जहां की 68% से अधिक आबादी भारतीय मूल की है। दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक संबंध और लंबे ऐतिहासिक संबंधों ने दोनों देशों के बीच मजबूत और सौहार्दपूर्ण संबंधों में योगदान दिया है। डिजिटल प्लेटफार्म का उद्देश्य ज़मीनी स्तर पर इन संबंधों को और मजबूत बनाना है। आज मंच को ट्विटर, इंस्टाग्राम, फेसबुक, सहित अन्य सोशल मीडिया साइटों पर लॉन्च किया गया है। प्लेटफॉर्म आने वाले दिनों में अपनी वेबसाइट लॉन्च करेगा‌।