फ्रांस के विरोध की आंच भारत तक पहुंची, मैक्रों को खिलाफ प्रदर्शन

नई दिल्ली/भोपाल/मुम्बई : मुस्लिम देशों में फ्रांस के खिलाफ शुरू हुए विरोध प्रदर्शनों की आंच भारत भी पहुंच गई है। फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ भारत में विरोध प्रदर्शन का दौर शुरू हो गया है। मध्य प्रदेश के भोपाल और महाराष्ट्र के मुंबई फ्रांस के पीएम के खिलाफ विरोध देखने को मिला। भोपाल में तो कांग्रेस विधायक की अगुवाई कोरोना गाइड लाइन को साइड लाइन करते हुए बड़ी संख्या में एकत्र होकर लोगों ने मैक्रों के खिलाफ रैली निकाली है।

निकिता मर्डर केस : फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई, फांसी की मांग

बताते चलें कि फ्रांस में हुए हमलों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस की आतंक के खिलाफ लड़ाई के प्रति एकजुटता जताई है। फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ भोपाल के इकबाल मैदान में बड़ी रैली निकाली गई। कांग्रेस के विधायक आरिफ मसूद ने इस रैली का आयोजन किया। सोशल मीडिया के जरिए हजारों की भीड़ इकबाल मैदान में जुटाई गई, जहां मैक्रों के पुतले जलाए गए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना काल में बिना इजाजत इस तरह की रैली निकालने वालों पर सख्त ऐक्शन की बात कही है। उन्होंने ट्वीट किया, मध्य प्रदेश शांति का टापू है। इसकी शांति को भंग करने वालों से हम पूरी सख्ती से निपटेंगे। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा, वो चाहे कोई भी हो।

शिवराज सरकार द्वारा कार्रवाई की बात पर कांग्रेस विधायक मसूद ने रैली निकालने का बचाव किया। मसूद ने कहा, फ्रांस के राष्ट्रपति ने जो हमारे धर्मगुरु और मजहब के बारे में टिप्पणी की, हमने उसका विरोध किया है। किसी का मजहब इजाजत नहीं देता कि किसी के धर्मगुरु के खिलाफ टिप्पणी की जाए। उन्होंने जो टिप्पणी की और कार्टून बनाया हमने उसका विरोध किया। उन्होंने कहा कि वह किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार हैं।

वहीं दूसरी ओर मुंबई में भी फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन देखने को मिला। फ्रांस का विरोध कर रहे मुस्लिम देशों की तर्ज पर मुंबई के भिंडी बाजार में भी रातोंरात सडक़ पर मैक्रों के पोस्टर लगा दिए गए। सुबह जब लोग बाहर निकले तो सडक़ों पर ये पोस्टर देखकर हैरान रह गए। सोशल मीडिया पर भी पोस्टर से पटी सडक़ का विडियो वायरल हो गया। मुंबई में ये पोस्टर किसने लगाए, अभी तक यह रहस्य है। किसी संगठन ने अभी तक इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है।

इस पूरे मामले पर प्रधानमंत्री ने फ्रांस में एक गिरिजाघर में हुए हमले सहित हाल के दिनों में वहां हुई आतंकवादी घटनाओं की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत फ्रांस के साथ खड़ा है। मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘फ्रांस में आज एक गिरिजाघर में हुए हमले सहित हाल के दिनों में वहां हुई आतंकवादी घटनाओं की मैं कड़े शब्दों में निंदा करता हूं। उन्होंने कहा, ‘‘पीडि़त परिवारों और फ्रांस की जनता के प्रति हमारी गहरी संवेदनाएं हैं। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत फ्रांस के साथ खड़ा है।

ज्ञात हो कि सितंबर महीने में विवादित कार्टून मैग्जीन चार्ली हेब्दो ने पैगम्बर मुहम्मद साहब का एक विवादित कार्टून एक बार फिर अपनी मैग्जीन में छाप दिया। इससे पहले साल 2015 में भी इसी कार्टून को छापने को लेकर चार्ली हेब्दो के दफ्तर पर हमला भी हुआ था। इस संबंध में 14 आरोपियों के खिलाफ मामला भी दर्ज हुआ, जिनकी हालही में सुनवाई भी शुरू होने वाली थी। लेकिन, इससे एन पहले चार्ली हेब्दो ने एक बार फिर वही कार्टून छाप दिया। विवाद तब शुरु हुआ, जब फ्रांस के राष्ट्रपति ने इसी महीने की शुरुआत में चित्र का समर्थन करते हुए कह दिया कि, वो इस्लामिक अलगाववाद से लडऩा चाहते हैं।

इस दौरान उन्होंने ये भी कहा कि, ये धर्म पूरी दुनिया में आज संकट के दौर से गुजर रहा है। जिसके बाद मुस्लिम देशों की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई। फिर इसके बाद इन्हीं देशों में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ लोगों ने सडक़ों पर उतर कर प्रदर्शन कर शुरू कर दिया।

देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंwww.dastaktimes.orgके साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिएhttps://www.facebook.com/dastak.times.9और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @TimesDastak पर क्लिक करें।

साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों के ‘न्यूज़वीडियो’ आप देख सकते हैं हमारे youtube चैनलhttps://www.youtube.com/c/DastakTimes/videosपर। तो फिर बने रहियेwww.dastaktimes.orgके साथ और खुद को रखिये लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड।FacebookTwitterWhatsAppPinterestEmailShare