पीबीएल : अवध वॉरियर्स को 4-2 से हरा बेंगलुरू फाइनल में

- in BREAKING NEWS, खेल
बेंगलुरू। बेंगलुरू रैप्टर्स ने शुक्रवार को यहां श्री कांतिरावा स्टेडियम में खेले गए वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के चौथे सीजन के पहले सेमीफाइनल में में अवध वॉरियर्स को 4-2 से मात देकर से फाइनल में जगह बना ली है। बेंगलुरू ने इस मुकाबले में पहला मैच हारने के बाद अपने लगातार तीन मैच जीत खिताबी मुकाबले में कदम रखा है। फाइनल में बेंगलुरू मौजूदा विजेता हैदराबाद हंटर्स और मुंबई रॉकेट्स के बीच शनिवार को होने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच की विजेता से भिड़ेगी।
अवध ने पहला मैच जीत 2-0 की बढ़त ले ली थी, लेकिन बी.साई. प्रणीत और किदाम्बी श्रीकांत ने अपने-अपने मुकाबले जीत स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया और फिर मोहम्मद अहसान तथा हैंड्रा सेतियावान ने ट्रम्प मैच जीत दो अंक लेकर अपनी बेंगलुरू की जीत दिलाई। इस मैच के बाद महिला एकल का मैच होना था चूंकि मुकाबले का परिणाम इसी मैच से निकल गया तो आखिरी मैच नहीं खेला गया।
पहला मैच मिश्रित युगल का था जहां अवध की माथिया क्रिस्टिएनसेन और अश्विनी पोनप्पी की जोड़ी ने बेंगलुरू की मार्कस एलिस और लॉरेन स्मिथ को जोड़ी को सीधे गेमों में 15-7, 15-10 से मात दी। इस मैच को जीत अवध के हिस्से दो अंक आए। यह उसका ट्रम्प मैच था। पीबीएल में ट्रम्प मैच जीतने वाली टीम को दो अंक मिलते हैं। अगले मैच में पुरुष एकल वर्ग में अवध ने ली डोंग केयुन को बेंगलुरू के साई प्रणीत के सामने उतारा। प्रणीत ने यह मैच 15-9, 15-4 से जीत अपनी टीम के खाते में एक अंक डाला। इस मैच के बाद अवध की टीम 2-1 से आगे थी।
अगला मैच पुरुष एकल वर्ग में ही बेंगलुरू के किदाम्बी श्रीकांत और अवध के सोन वान हो के बीच में था। श्रीकांत ने यह मैच 15-7, 15-10 से जीत अपनी टीम को 2-2 से बराबरी पर ला उसे मैच में बनाए रखा। श्रीकांत और हो में शुरुआत में बराबरी का खेल देखने को मिला। पहले गेम की शुरुआत में स्कोर 1-1, 2-2, 3-3, 4-4 था। लेकिन श्रीकांत ब्रेक में 8-3 की बढ़त के साथ गए और आने के बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और पहला गेम 15-7 से अपने नाम किया। दूसरे गेम की शुरुआत भी पहले गेम की तरह बराबरी के खेल से हुई। लेकिन इस बार भी श्रीकांत बढ़Þत लेने में सफल रहे और स्कोर 4-2 कर लिया। श्रीकांत ने अपनी बढ़त को 5-11 कर लिया लेकिन वान हो ने लगातार चार अंक ले स्कोर 9-11 किया। श्रीकांत ने वान हो को बराबरी नहीं करने दी और लगातार अंक लेकर 15-10 से गेम जीत मैच अपने नाम कर टीम को वापसी कराई।
अगला मैच पुरुष युगल का था जहां अवध के ली यांग और माथियास की जोड़ी का सामना बेंगलुरू के मोहम्मद अहसान और हैंड्रा सेतियावान की जोड़ी से था। बेंगलुरू की जोड़ी ने अवध की जोड़ी को 15-14, 15-9 से मात दे अपनी टीम की जीत दिलाई। यह बेंगलुरू का ट्रम्प मैच था और इस जीत से उसे दो अंक मिले जिससे वह 4-2 जीत हासिल करने में सफल हो सकी। मुकाबले का अंतिम मैच महिला एकल वर्ग का था जहां अवध की ओर से बेइवान झांग और बेंगलुरू की थी थ्रांग वू का सामना होना था लेकिन यह मैच डेड रबर था इसलिए दोनों खिलाड़ियों के बीच मैच खेला नहीं गया।