हार से मेजबान यूपी का सफर थमा, दिल्ली फाइनल में

- in TOP NEWS, खेल, लखनऊ
लखनऊ। पिछली उपविजेता दिल्ली ने 35वीं राष्ट्रीय सब जूनियर बालिका हैण्डबॉल चैंपियनशिप में आज खेले गए पहले सेमीफाइनल में हरियाणा को मात्र एक गोल (16-15) से पराजित कर फाइनल में प्रवेश कर लिया। वहीं मेजबान यूपी की टीम क्वार्टर फाइनल में घरेलू मैदान और स्थानीय दर्शकों के भारी समर्थन के बावजूद पिछली चैंपियन साई से 17 के मुकाबले 29 गोलों से हारकर बाहर हो गई। अब बुधवार को दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में साई की टीम हिमाचल प्रदेश से खेलकर आगे का रास्ता तय करेगी।
35वीं राष्ट्रीय सब जूनियर बालिका हैण्डबॉल चैंपियनशिप
केडी सिंह बाबू स्टेडियम में आज हुए एक समारोह में हैण्डबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डा.प्रदीप बालामुची ने एशियन चैंपियनशिप और एशियन गेम्स में भारतीय हैण्डबॉल टीम का प्रतिनिधत्व करने वाली उत्तर प्रदेश की खिलाड़ियों इंदु गुप्ता, सृष्टि अग्रवाल, ज्योति शुक्ला, सुप्रिया जायसवाल, मंजुला पाठक, शिवा सिंह, स्वर्णिमा जायसवाल, तेजस्विनी सिंह और राहुल दुबे आदि प्रत्येक खिलाड़ी को स्मृति चिन्ह और 5100 रूपए नगद पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर हैण्डबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव आनन्देश्वर पाण्डेय के अलावा जितेंद्र सिंह बब्लू, विनय सिंह व अन्य मौजूद थे।
केडी सिंह बाबू स्टेडियम में ही मंगलवार को सायंकालीन सत्र में साई बनाम उत्तर प्रदेश के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में यूपी की लड़कियां शुरूआत में कुछ संघर्ष करती दिखी लेकिन साई की लड़कियों ने दबदबा बनाते हुए आसान जीत दर्ज की। मध्यांतर तक साई की टीम यूपी से मात्र 6 गोलों की (17-7) ही बढ़त हासिल कर सकी थी लेकिन दूसरे हॉफ में अपनी पूरी पकड़ और दबदबा कायम रखते हुए मैच को एकतरफा बनाते हुए 29-17 से आसान जीत के साथ एक बार फिर खिताब बचाने की होड़ में पहुंच गयी। साई के लिए तनु ने सर्वाधिक 12 गोलों का योगदान किया जबकि पूजा और आरती ने छह-छह और किरनज्योत ने तीन गोल दागे। यूपी के लिए सर्वाधिक सफल खिलाड़ी प्रिया शर्मा ने पांच गोल दागे जबकि मुस्कान चौधरी चार गोल करने में सफल रही। इसके अलावा आराधना, मुस्कान और काजल सैनी ने दो-दो गोल किए।
हरियाणा को रोमांचक मुकाबले में मात देकर दिल्ली फाइनल में 
वहीं आज दिल्ली बनाम हरियाणा के मध्य खेले गए पहले सेमीफाइनल में मध्यांतर तक दिल्ली टीम 7-10 गोलों से पिछड़ी हुई थी लेकिन दूसरे हॉफ में हर्षिता के छह, कामिनी के तीन और खुशबू, अंजली व विक्की के दो-दो गोलों से टीम ने 16 गोल दागे और 16-15 से मैच जीतते हुए लगातार दूसरे साल फाइनल में पहुंचने में सफल रही। हरियाणा के लिए प्रियंका, प्रिया, मोनिका और पूनम ने तीन-तीन गोल किए। इससे पूर्व सुबह के सत्र में खेले गए क्वार्टर फाइनल में हिमाचल प्रदेश ने महाराष्ट्र को 31-8 से, हरियाणा ने पंजाब को 20-12 से और दिल्ली ने गुजरात को 22-8 गोलों से हराया। वहीं पांचवें से आठवें स्थान के लिए होने वाले मुकाबले में पंजाब ने गुजरात को 9-5 से हराकर अपनी स्थिति ठीक कर ली। चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला कल शाम तीन बजे से खेला जाएगा। इससे पहले दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला सुबह के सत्र में साई बनाम हिमाचल प्रदेश के मध्य होगा।